पटना : पथ निर्माण मंत्री नंद किशोर यादव ने कहा है कि महल में रहने और चांदी के चम्मच से खाने वाले जिस व्यक्ति ने गरीबी कभी देखी ही नहीं, उन्हें गरीबों के बारे में क्या जानकारी। गरीबी दूर करने की दिशा में जिस व्यक्ति के पास मजबूत इच्छा-शक्ति है और जिनके कार्य दिख रहे हैं वे हैं प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी, क्योंकि इन्होंने गरीबी को बड़े ही निकट से देखा और झेला है।
श्री यादव ने कहा कि प्लेन और लक्जरी गाडिय़ों से सफर करने वाले, आलीशान महल में कड़ी सुरक्षा के घेरे में रहने वाले और विदेश में पढऩे वाले कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी क्या जाने गरीबों का हाल। कितनी हास्यास्पद बात है कि जो लोग सात दशक तक गरीबों का बैंकों में खाता तक नहीं खुलवा सके वे कहते हैं कि गरीबों के खाता में पैसा डालेंगे। उद्योग-व्यापार से जुड़े लोगों को झांसा देते हैं कि नये कारोबार के लिये तीन साल तक किसी से अनुमति नहीं लेनी होगी। क्या पैसा गांधी परिवार की तिजोरी से आयेगा या भ्रष्टाचारियों के जरिये कांग्रेस के खजाने में जमा अकूत धन से। युवराज राहुल गांधी प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की बढ़ती लोकप्रियता से बौखलाकर अनाप-शनाप बटोलेबाजी कर रहे हैं, जिसे जनता अच्छी तरह जानती है।
श्री यादव ने राहुल गांधी के कथन पर तंज कसते हुए कहा कि युवराज बताएं कि 55 साल तक उनकी पार्टी का राजपाट रहा, गरीबी दूर हुई क्या? जवाहर लाल नेहरू, इन्दिरा गांधी और राजीव गांधी गरीबी हटाओं का जुमला फेकते रहे, अब राहुल कह रहे हैं कि गरीबी हटायेंगे। गरीबी दूर करने का काम प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी कर रहे हैं। उनके द्वारा शुरू की गई 100 से अधिक जन कल्याणकारी योजनाएं इसका मार्ग प्रशस्त कर रही है। गरीबों के आर्थिक स्तर में सुधार के लक्षण देख युवराज का चिढऩा स्वभाविक है।

Share To:

Post A Comment: