फतुहा: पटना साहिब सीट पर इस बार  एनडीए और महागठबंधन में सीधा मुकाबला हो रहा है। एनडीए में  यह सीट भाजपा में आयी है। भाजपा में कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद को उतारा गया  है दूसरी ओर महागठबंधन से शत्रुघ्न सिन्हा को उम्मीदवार बनाए जाने की उम्मीद है। सबसे रोचक स्थति है कि पिछले चुनाव तक जिन उम्मीदवारों को कार्यकर्ताओं जिताने में दम-खम लगाए थे। इस बार उन्हीं उम्मीदवार को हराने के लिए बेदम है। भाजपा में लम्बे समय तक साथ रहने वाले शत्रुघ्न सिन्हा  के खिलाफ केन्द्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ताल ठोक दिया है। 2009 एवं 2014 के चुनाव में शत्रुघ्न सिन्हा को जीताने के लिए रविशंकर प्रसाद प्रचार करते थे और इस बार वे स्वयं शत्रुघ्न सिन्हा के खिलाफ खड़े हैं। इस बार जहां महागठबंधन में एक मत देखी जा रही है दूसरी ओर एनडीए  के कार्यकर्ताओं में काफी बिखराव देखा जा रहा है। इस बार अपराध और भ्रष्टाचार सबसे बड़ी मुदा देखी जा रही है।

भारत सरकार द्वारा लगभग 151 योजनाएं चलाई जा रही है, ऐसे योजनाओं के बारे में आम नागरिकों के कौन कहे कार्यकर्ता भी अधिकांश नहीं जानते हैं। मुद्रा योजना के कहीं नामोनिशान तक नहीं है। प्रधानमंत्री आवास योजना में 30 हजार रुपए तक की लेने कि चर्चा है। यह महागठबंधन के सबसे बड़ी हथियार माना जा रहा है। कानून मंत्री रविशंकर प्रसाद ने समाज हित में एक कानून नहीं बनाए यह चर्चा का विषय बना हुआ है। आज पूरा बिहार अपराधियों के सिकंजे में है बावजूद उन्होंने अपराध रोकने के लिए एक भी कानून नहीं बना सके। आज लाखों निर्दोष लोग जेल में है, परन्तु ऐसा कानून बनाने की हिम्मत नहीं कर सके कि यदि पुलिस निर्दोष लोगों को जेल भेजाती है तो उस पुलिस अधिकारियों को जेल भेजेंगे। रविशंकर प्रसाद जी को अपने कर्मठता पर वोट कि आशा नहीं है। एनडीए के आशा सिर्फ प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा जातीय समीकरण ही रह गया है। भाजपा के महिला मोर्चा के अध्यक्ष शोभा कुमारी का मानना है कि इस बार रविशंकर प्रसाद भारी मतों जितेंगे, लेकिन महलों में रहने वाले कार्यकर्ताओं से पहले जमीनी कार्यकर्ताओं को महत्व देना होगा। उसने यह भी कहा कि समस्याएं तो सिर्फ गरीबों के पास होती है महलों वाले तो समस्या पैदा करते हैं। एनडीए और महागठबंधन के बीच सिर्फ जातीय आंकड़ा  सहारा रह गया है।

कुल वोटर- 1657456, ब्रह्मण   56606, राजपुत- 132968, भुमिहार   91815, कायस्थ- 110571, इसाई      -  4670, मुसलमान- 111010, यादव        283364, कोईरी-  102496, लोहार-      4669, माली- 2895, हजाम     11372, नोनीया- 4108, सोनार।    2352, तेली- 23945, तांती- 2187, पनेरी- 570, धोवी- 19751, रविदास- 114599, पासवान- 107875, मुसहर- 16330, डोम।        20666, पासी- 24940, गौड़।       285, कुर्मी- 131861, बनीया      156034, विंदू- 9184, बढ़ई।         12124, धानुक- 10301, कुम्हार।       11271, कहार- 82227, कलवार-1127 है।


Share To:

Post A Comment: