पटना:   एनडीए के उम्मीदवारों के लिस्ट में एकमात्र मुस्लिम उम्मीदवार के नाम होने पर हिन्दुस्तानी आवाम मोर्चा ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार पर तंज कसा है। पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ दानिश रिजवान ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के इशारे पर ही राजग गठबंधन ने मुसलमानों को टिकट नहीं दिया है।

  दानिश ने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एक तरफ़ जहां अपने हर भाषणों में खुद को मुस्लिम प्रेमी होने का ड्रामा करते हैं वही जब मुसलमानों को सत्ता में भागीदारी देने की बात सामने आती है तो उन्हें टिकट तक देना वाजिब नहीं समझते हैं।जिसका असर है कि छक्। गठबंधन में शामिल दलों ने मुस्लिम उम्मीदवारों को नकारते हुए के एक मात्र टिकट किशनगंज के उम्मीदवार के तौर पर दिया वह अभी सिर्फ इसलिए कि वह इलाक़ा मुस्लिम बहुल है।

       दानिश ने एनडीए गठबंधन में शामिल मुस्लिम नेताओं को कहा कि अगर सही मायने में उनके दिलों में कौम और मुल्क की 1प्रतिशत भी इज्जत बची है तो अविलंब एनडीए गठबंधन को छोडक़र महागठबंधन की तरफ़ में हो क्योंकि महागठबंधन में ही सही मायने में मुसलमानों को इज्जत मिल सकता है। एनडीए के नेता दुनिया को दिखावे के लिए सिर्फ सबका साथ और सबका विकास की बात करते है, और जब सत्ता में भागीदारी देने की बात आती है तो मुसलमानों को दूध की मक्खी के जैसे निकाल कर बाहर फेंक देते हैं।



Share To:

Post A Comment: