पटना,  : प्रदेश कांग्रेस कमिटी के चुनाव समिति की बैठक प्रदेश कांग्रेस कमिटी के मुख्यालय सदाकत आश्रम में सम्पन्न हुई। चुनाव समिति की बैठक की अध्यक्षता बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डा. मदन मोहन झा ने की। इस बैठक में अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल, अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सचिव बिहार प्रभारी बीरेन्द्र सिंह राठौर, कांग्रेस विधान मण्डल दल के नेता सदानन्द सिंह, प्रदेश कांग्रेस अभियान समिति के अध्यक्ष डा. अखिलेश प्र. सिंह, लोकसभा के पूर्व स्पीकर मीरा कुमार, पूर्व राज्यपाल निखिल कुमार, पूर्व केन्द्रीय मंत्री डा. शकील अहमद, अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सचिव डा. जाबेद, रंजीत रंजन एम.पी., डा. शकील अहमद खान, प्रदेश कांग्रेस के चारों कार्यकारी अध्यक्ष, मोर्चा संगठन के अध्यक्ष एवं चुनाव समिति के सदस्य मौजूद थे।

बैठक में हुई कार्यवाही की जानकारी देते हुए प्रदेश कांग्रेस मीडिया विभाग के अध्यक्ष एच.के. वर्मा ने कहा कि बैठक में सर्वसम्मति से तीन प्रस्ताव पारित किये गये। पहले प्रस्ताव में पुलवामा के आतंकी हमले में 44 शहीद जवानों के सम्मान में (जिसमें दो बिहार के थे) दो मिनट का मौन रखा गया। प्रस्ताव में कहा गया कि शहीद जवानों ने देश की रक्षा में अपनी आहुति दी है, और सारा देश शहीदों के शौर्य एवं साहस को नमन करता है। दूसरे प्रस्ताव में 3 फरवरी 2.19 को गांधी मैदान, पटना की सफलतम रैली के लिये राज्य की जनता एवं राज्य के कोने-कोने से आये कांग्रेस नेता एवं कार्यकत्र्ता को हार्दिक धन्यवाद दिया गया। गाँधी मैदान, पटना में 29 वर्षों के बाद रैली को संबोधन करने एवं कांग्रेसजनों के बीच जोश उत्पन्न करने के लिये एवं केन्द्र में महागठबंधन सरकार बनने की स्थिति में पटना विश्वविद्यालय को केन्द्रीय विश्वविद्यालय का दर्जा दिलाने के लिये कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष माननीय राहुल गांधी को धन्यवाद दिया गया।

देर शाम तक चली बैठक को सम्बोधित करते हुए बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेताओं से आग्रह किया कि वे अपनी इच्छा से एक प्रखण्ड का जिम्मा लेकर, लोकसभा चुनाव सम्पन्न होने तक वहां कैम्प करें एवं कांग्रेस पार्टी के पक्ष में वातावरण बनायें। उन्होंने कहा कि लोकसभा क्षेत्र में उम्मीदवारों द्वारा नामांकन भरने में भी बड़ी सावधानी की आवश्यकता है। विधान मण्डल दल के नेता सदानन्द सिंह ने कहा कि 2014 की स्थिति से आज कांग्रेस पार्टी की स्थिति बहुत अच्छी है। उन्होंने कहा कि बिहार में कांग्रेस की मजबूत स्थिति बनाये में शक्ति सिंह गोहिल, बीरेन्द्र सिंह राठौर एवं राजेश लिलौटिया का बड़ा हाथ है।

बैठक में प्रदेश कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष अनिल कुमार शर्मा, पूर्व मंत्री डा. जाबेद, डा. शकील अहमद खान, विजय शंकर दूबे, रामदेव राय,  कृपानाथ पाठकडा. ज्योति, डा. शकील उज्जमा अन्सारी, अवधेश कुमार सिंह, प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष अमिता भूषण, सुश्री पूनम पासवान, एम.एल.ए., पूर्व विधायक नरेन्द्र कुमार, प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष डा. अशोक कुमार, कौकब कादरी, डा. समीर कुमार सिंह, श्यामसुन्दर सिंह धीरज, ब्रजेश पाण्डेय, पूर्व मंत्री पूर्णमासी राम, प्रेमचन्द्र मिश्र एम.एल.सी., पूर्व मंत्री जलील मस्तान, राजेश कुमार एम.एल.ए., अर्जुन मण्डल, चन्द्रप्रकाश सिंह, दिलीप कुमार गुप्ता, गुंजन पटेल, कैलाश पाल, चुन्नू सिंह, आनन्द शंकर विधायक, विजय कुमार गुप्ता ने भी सुझाव दिये।


Share To:

Post A Comment: