पटना : दिल्ली से पटना पहुंचने के बाद केंद्रीय मंत्री गिरिराज सिंह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से पटना स्थित आवास पर मिले। जानकारी के अनुसार दोनों नेताओं में काफी देर तक बात हुई। इस दौरान बेगूसराय की सियासत पर बात हुई। गिरिराज ने मुख्यमंत्री को बेगूसराय आने का न्यौता दिया। वहां से निकलने के बाद केंद्रीय मंत्री व बेगूसराय के बीजेपी उम्मीदवार गिरिराज सिंह ने कहा कि हमने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को बेगूसराय आने का दिया न्यौता दिया। इसके अलावा चुनाव समेत कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर चर्चा हुई। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री ने कहा है कि वे बेगूसराय चुनाव प्रचार में जाएंगे। गिरिराज ने यह भी कहा कि बिहार समेत पूरे देश में एनडीए की जीत होगी।

दरअसल नवादा से बेगूसराय सीट किए जाने के बाद से गिरिराज सिंह काफी नाराज थे। उन्होंने संगठन की बिहार इकाई के प्रति काफी गुस्से में थे तथा चुनाव लडऩे से इनकार कर दिया था। बात आलाकमान तक पहुंची। इसे लेकर खुद राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह सामने आए। उन्होंने बुधवार को ट्वीट कर गिरिराज सिंह के बेगूसराय से चुनाव लडऩे की जानकारी दी। अमित शाह ने अपने ट्वीट में कहा कि गिरिराज सिंह बिहार के बेगूसराय से लोकसभा चुनाव लड़ेंगे। उनकी सारी बातों को मैंने सुना है और संगठन उनकी सभी समस्याओं का समाधान निकालेगा। मैं चुनाव के लिए उन्हें शुभकामनाएं देता हूं।  


जानकारी रहे  कि गिरिराज सिंह ने पिछले दिनों कहा था कि सीट बदले जाने से मेरे आत्म सम्मान को ठेस पहुंची है, क्योंकि बिहार में किसी भी सांसद की सीट नहीं बदली गई है और मेरी सीट बदल दी गई है। उन्होंने यह भी आरोप लगाया था कि मुझसे बिना पूछे इसका फैसला लिया गया। बिहार बीजेपी नेतृत्व को मुझे बताना चाहिए कि ऐसा क्यों किया गया, बेगूसराय से मुझे कोई दिक्कत नहीं है, मगर मैं अपने आत्म सम्मान के साथ समझौता नहीं कर सकता हूं।


लेकिन जब अमित शाह ने उन्हें मना लिया तो वे अब चुनाव लडऩे को तैयार हो गए हैं और छह अप्रैल को अपना नामांकन करेंगे। दिल्ली से बिहार लौटने के बाद उन्होंने मीडिया से पटना में कहा कि मेरी सभी समस्याओं का समाधान हो गया। मैं चुनाव लडऩे को हमेशा तैयार था, लेकिन बिना मुझसे पूछे ही सीट बदले जाने से जो पीड़ा हुई थी, उसका समाधान हो गया है। मेरी पीड़ा भी खत्म हो गई है।


Share To:

Post A Comment: