पटना, (रिर्पोटर) : बिहार भाजपा मुख्यालय में आज मॉरिशस से आयी 25 महिलाओं के प्रतिनिधिमंडल का भव्य तरीके से स्वागत किया गया. बिहार भाजपा के संगठन महामंत्री श्री नागेन्द्र जी ने प्रतिनिधिमंडल का स्वागत करते हुए कहा कि ये सभी लोग न सिर्फ हमारी संस्कृति के अगुआ है बल्कि संरक्षक भी हैं। इन्होने अपनी मेहनत से सात समुन्दर पार अपना वजूद स्थापित कर अपनी काबिलियत साबित की है जिसके लिए हम इनके शुक्रगुजार हैं. इस अवसर पर बोलते हुए भाजपा प्रदेश उपाध्यक्ष  देवेश कुमार ने बिहार और मॉरिशस के आपसी संबंधों और साझा संस्कृति के बारे में विस्तार से बताया। भाजपा द्वारा आयोजित इस सम्मान समारोह से मॉरिशस के पूर्व उपराष्ट्रपति की पत्नी तथा मॉरीशस में 50 से भी अधिक स्थानों पर संचालित गंवई स्कूल की संयोजिका डॉ सरिता बुद्धू जी के नेतृत्व में आया प्रतिनिधिमंडल भावविह्वल हो उठा। इस सम्मान के लिए भाजपा नेताओं को धन्यवाद देते हुए डॉ सरिता बुद्धू ने अपने संबोधन में आज से सैंकड़ो वर्ष पूर्व बिहार से मॉरिशस गए गिरमिटिया मजदूरों के संघर्ष को याद किया। उन्होंने बताया कि यहाँ से मॉरिशस गए बिहारवासियों को किन परेशानियों का सामना करना पड़ा और कैसे उन्होंने अपनी मेहनत से मजदूरी से ऊपर उठ वहां अपनी जगह बनायी और बिहारियों का मान-सम्मान कायम किया। इस महिला प्रतिनिधिमंडल में शामिल प्रमुख लोगों में धनदेवी पुनीत, चिंतामणि गुरुचर, सूर्यवन्ति हरनाम, लीला देवी सुकून, वरुणा जोधुनल, शांति अब्बा नाह शामिल हैं।



इस अवसर पर भाजपा विधायक सह बिहार भाजयुमो अध्यक्ष  नितिन नबीन, बिहार भाजपा अप्रवासी भारतीय प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजकअनिल दत्त, प्रदेश प्रवक्ता  निखिल आनंद, प्रदेश मंत्री श्रीमती अमृता भूषण राठौड़, आईटी सेल के सह-संयोजक  मनन कृष्ण, क्रीड़ा प्रकोष्ठ के सह-संयोजक  सोनू शर्मा, मीडिया प्रभारी  अशोक भट्ट, राकेश कुमार सिंह एवं राजीव रंजन, भाजपा अप्रवासी प्रकोष्ठ के सदस्यगण सतेन्द्र कुमार, सुजीत कुमार, कुमार शरदिन्दु, मृदुल मनीष, अजय सिन्हा, राजेश तिवारी, रामजी तिवारी, वरुण पाण्डेय, साधना सिंह समेत सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित रहे। अप्रवासी भारतीय प्रकोष्ठ के प्रदेश संयोजक  अनिल दत्त जी ने धन्यवाद ज्ञापन करते हुए मॉरिशस से आयी महिलाओं और उपस्थित व्यक्तियों के प्रति आभार व्यक्त किया।

Share To:

Post A Comment: