पटना, (रिर्पोटर) : बिहार में महागठबंधन को पूरी तरह हताश और निराश बताते हुए भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सह पूर्व विधायक राजीव रंजन ने कहा “ लोकसभा चुनाव में अभी छह चरण की वोटिंग बाकी है, लेकिन पहले चरण में ही जनता का रुख भांप महागठबंधन के नेता अभी से सदमे में दिखने लगे हैं. होने वाली हार की निराशा उनके चेहरे और बयानों में स्पष्ट दिख रही है. लोगों से मिल रही जानकारी के मुताबिक बिहार में पहले चरण की वोटिंग वाले सभी सीटों पर एनडीए काफी आगे है जिससे विपक्षी नेताओं के चेहरे पर हवाइयां उड़ने लगी है. यही वजह है कि इनके नेताओं ने फिर से इवीएम का अपना घिसा-पीटा राग अलापना शुरू कर दिया है. गौरतलब हो कि बिहार में पहले चरण में जिन चारों सीटों पर मतदान हुआ है, 2014 में यह चारों सीटें एनडीए ने भारी बहुमत से जीती थीं, इनमे से तीन पर भाजपा और एक पर लोजपा ने जीत दर्ज की थी. लोगों की माने तो इस बार इतिहास एक बार फिर से खुद को दोहराने वाला है, और चारों सीटें फिर से एनडीए के खाते में आने वाली हैं. जाहिर है कि भाजपा द्वारा पिछले पांच वर्षों में चलाए गए विकास कार्य जनता के सामने हैं, वहीं विपक्ष के पास सिवाए झूठ और प्रोपगेंडा के जनता के सामने बोलने के लिए कुछ नही हैं. ऐसे में जनता एनडीए के समर्थन में क्यों है यह समझना मुश्किल नही.  रंजन ने आगे कहा “ यह आज देश में किसी से छिपा नही है कि प्रधानमन्त्री श्री मोदी की नीतियों और कठिन परिश्रम से देश ने पिछले पांच वर्षों में कई ऐतिहासिक मुकाम हासिल किए हैं.सिर्फ पांच वर्षों में ही पूरे विश्व में भारत की छवि अभूतपूर्व ढंग से बदली है. आज सरकार द्वारा ऊर्जा, स्वच्छता, महिला सशक्तिकरण और विनिर्माण क्षेत्र में किए गये कार्यों की पूरी दुनिया में न केवल सराहना हो रही है, बल्कि कई देश इसे अपना भी रहे हैं. आज देश 100% विद्युतिकृत राष्ट्रों की श्रेणी में शुमार हो चुका है, देश का स्वच्छता कवरेज 98% तक पंहुच चुका है, आज देश के 90% से अधिक घरों में रसोई गैस पंहुच चुकी है, अधिकांश भारतीय बैंकों से जुड़ चुके हैं।  यह दिखाता है कि अगर पिछली सरकार भी इसी मनोयोग से काम करतीं तो आज भारत दुनिया पर राज कर रहा होता. जनता इसे समझ रही है और यही वजह है चुनावों के समय पूरा देश मोदीमय हो चुका है।

Share To:

Post A Comment: