पटना, (रिर्पोटरी) :राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानन्द तिवार ने कहा कि बिगत विधानसभा चुनाव में महागठबंधन के पक्ष में मिले जनादेश की अवहेलना करते हुए नीतीश कुमार ने पाला बदल लिया था।  उसके बाद यह पहला चुनाव है जिसमें जनता को  तय करना होगा कि नीतीश कुमार के अनैतिक गठबंधन का  समर्थन करे या नहीं। यह चुनाव इमरजेंसी के बाद हुए 1977 के चुनाव से भी ज़्यादा महत्वपूर्ण हैं।  आज भारत में मोदी की सरकार बगैर इमरजेंसी का इस्तेमाल किए हुए सारे लोकतांत्रिक संस्थाओं को नष्ट कर रही है संविधान की खुलेआम अवहेलना हो रही है।  कहा जा रहा है कि इस चुनाव के बाद देश में फिर चुनाव नहीं होने वाला है इसलिए यह चुनाव सिर्फ सरकार बदलने का ही  नहीं है, बल्कि लोकतंत्र और संविधान को बचाने का चुनाव है। इस चुनाव में देश के पिछड़े, दलित, आदिवासी, अकलियत और संविधान तथा लोकतंत्र में यक़ीन रखने वाले तमाम लोग एकजुट हैं, बिहार में आज हुए सभी चारो सीटों पर मतदान में महागठबंधन जीत होगी।


Share To:

Post A Comment: