पटना, (रिर्पोटर) : पूर्व मंत्री एवं जदयू के वरिष्ठ नेता बागी कुमार वर्मा ने अपने सैंकड़ों साथियों के साथ जदयू की सदस्यता से इस्तीफा देकर राष्ट्रीय जनता दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद की सामाजिक न्याय एवं धर्मनिरपेक्षता की नीतियों में आस्था व्यक्त करते हुए राष्ट्रीय जनता दल की सदस्यता ग्रहण की। बिहार सरकार के पूर्व मंत्री सह प्रदेश उपाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह ने श्री बागी कुमार वर्मा को राजद की सदस्यता दिलायी।         राष्ट्रीय जनता के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष सह पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी ने कहा कि आज की बदली हुई राजनीति परिप्रेक्ष्य में दश में आज दो धारा चल रही है। एक समाजवादी तो दूसरी पंूजीवादी व्यवस्था के पोषक देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी एवं बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हैं। आज लोकसभा आम चुनाव, 2019 में एनडी, मुद्दाविहीन एवं जनता को गुमराह कर रहे हैं जो लोकतंत्र के लिए खतरा है।
बिहार विधान सभा के पूर्व अध्यक्ष सह बिहार सरकार के पूर्व मंत्री उदय नारायण चैधरी ने कहा कि पूरे देश में परिवर्तन का लहर चल रहा है। नरेन्द्र मोदी पुन: जनता से जुमलेबाजी कर जनता को बेवकूफ नहीं बना सकते हैं। उन्होंने कहा कि चुनाव के बाद केन्द्र में राहुल गांधी के नेतृत्व में सरकार बनेगी। पूर्व मंत्री बागी कुमार वर्मा ने कहा कि वर्ष 2019 के लोकसभा चुनाव में एनडी, का सफाया एवं वर्ष 2020 के विधान सभा चुनाव में नीतीश कुमार की सरकार की सफाया तय है साथ हीं बिहार के मुख्यमंत्री के रूप में बिहार की महान जनता ने तेजस्वी प्रसाद यादव को स्वीकार किया है।      
 मिलन समारोह में प्रदेश उपाध्यक्ष रामनारायण मंडल, चन्देश्वर प्रसाद सिंह, मदन शर्मा, निराला यादव, डा. प्रेम कुमार गुप्ता, डा. कुमार राहुल सिंह, संजय यादव, खुर्शीद आलम सिद्दिकी, सुजाता कुमारी सिन्हा, सुरेन्द्र कुमार यादव, विजय कुमार यादव, गुलाम रब्बानी, मिश्री राम, प्रमोद कुमार यादव निर्भय अम्बेदकर, सुजीत कुमार यादव, रतन कुमार यादव, निरंजन कुमार चन्द्रवंशी, पृथ्वीराज चैहान, ओमप्रकाश चैटाला, शेखर यादव, सुबोध कुमार सहित सैंकड़ों राजद नेता एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।

Share To:

Post A Comment: