पटना, (रिर्पोटर) : राजद के प्रदेश अध्यक्ष डॉ रामचन्द्र पूर्वे एवं प्रधान महासचिव आलोक कुमार मेहता ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के उस आरोप को बेबुनियाद बताया है जिसमें उन्होंने एक  टीवी चैनल को दिए गए साक्षात्कार में कहा है कि जेल में रहने के बावजूद लालू प्रसाद सियासत कर रहे हैं और लोगों से फोन पर बात करते हैं । उन्होंने यह भी कहा है कि लालू जी जेल के  नियमों को नही  मानते हैं ।
     राजद नेताओं ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के उक्त  बयान पर तीखी प्रतिक्रिया व्यक्त करते हुए कहा है कि मुख्यमंत्री जैसे जिम्मेवार पद पर रहने वाले व्यक्ति को इस ढंग से बेबुनियाद आरोप लगाना उनके ओछी मानसिकता का परिचायक है । लगता है कि अपनी संभावित हार को देखते हुए उन्होंने अपने मानसिक संतुलन खो दिया है ।और वे हताशा के शिकार बन चुके हैं । जनता के मुद्दों से ध्यान भटकाने के लिये उनके द्वारा इस तरह का बयान दिया गया है ।
       राजद नेताओं ने कहा है कि यह सर्वविदित है कि लालू जी जेल के नियमों का पालन करते हैं ।और नियमानुसार शनिवार के दिन जेल प्रशासन के अनुमति से हीं सीमित संख्या में हीं लोग उनसे मिल पाते हैं । इसके बावजूद प्रशासन द्वारा उनके वार्ड का बार बार निरीक्षण कराया जाता रहा है ।

Share To:

Post A Comment: