पटना, (रिर्पोटर) : भीषण गर्मी के बावजूद चौथे चरण की वोटिंग में जनता के दिखाए उत्साह की प्रशंसा करते हुए भाजपा प्रवक्ता सह पूर्व विधायक राजीव रंजन ने कहा “ चौथे चरण में जनता के रुख ने परिणाम को और स्पष्ट कर दिया है. लोगों की माने तो बिहार की पाँचों लोकसभाओं में जनता ने भाजपा और सहयोगी दलों के प्रत्याशियों को जमकर वोट डाला है. दूसरी तरफ महागठबंधन के खेमे में मायूसी दिखी है और लोगों ने मतदान में ज्यादा रूचि नही दिखाई. लोग इसे भी कुल मतदान प्रतिशत में हुई कमी से जोड़ कर देख रहे हैं. पहले से कम मतदान होना यह भी दिखाता है कि लोगों में एंटी-इनकम्बेंसी नही है, जैसा कि विपक्ष लगातार दुष्प्रचार करता रहा है. एनडीए खेमे को मिल रहा यह जनसमर्थन यह दिखाता है कि लोगों पर कांग्रेस-राजद के झूठ का कोई असर नही हो रहा है. दरअसल इन पांच वर्षों में देश में जितने काम हुए हैं, उसे लोगों ने साफ़ मह्सुस किया है. लोग अब पहले से ज्यादा जागरूक हो चुके हैं. डिजिटल इण्डिया के कारण आज घर-घर में इंटरनेट की सुविधा पंहुच चुकी है, जिससे लोग न केवल सही जानकारियों तक अपनी सीधी पंहुच बना चुके हैं, बल्कि सोशल मीडिया पर राजद-कांग्रेस के नेताओं को करारा जवाब भी दे रहे हैं.
 रंजन ने आगे कहा “ इसे कोई नकार नही सकता कि मोदी सरकार में जनता का सरकार से सीधा जुड़ाव हुआ है. पहली बार लोगों ने देश के किसी प्रधानमन्त्री को सोशल मीडिया के तहत जनता से संवाद करते देखा है. पहली बार किसी प्रधानमन्त्री ने पूरे पांच सालों तक लोगों से अपनी ‘मन की बात’ की. कांग्रेस पोषित लालफीताशाही वाले हमारे सिस्टम में एक ट्वीट पर बड़े से बड़ा काम होते हुए भी देश ने पहली बार ही देखा है. और पहली बार ही चुनाव में बिजली और मंहगाई जैसे मुद्दे गायब हैं. आज चुनाव के केंद्र में राष्ट्रवाद और विकास है, परिवारवाद और भ्रष्टाचार से मुक्ति की बातें हैं, यह सब इन पांच सालों में ही मुमकिन हुआ है, जिसका सीधा श्रेय प्रधानमन्त्री मोदी को ही जाता है. यही वजह है कि चुनावी एजेंसियां भी इस बार एनडीए गठबंधन को पहले से ज्यादा सीटें मिलने का संकेत दे रही हैं.

Share To:

Post A Comment: