पटना, (रिर्पोटर) : ‘‘हम निभाएगें’’ भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के सम्मानित अध्यक्ष  राहुल गांधी जी ने आज लोकसभा चुनाव 2019 के लिए घोषणा पत्र जारी किया। इस घोषणा पत्र का स्वागत करते हुए बिहार प्रदेश कांग्रेस कमिटी के अध्यक्ष डा.मदन मोहन झा ने कहा कि वास्तव में यह जन घोषणा पत्र है जनता की आवश्यकताओं का दर्पण है। यह एक अभूतपूर्व एवं साहसिक कदम है जो हमारे अध्यक्ष राहुल गांधी जी ने उठाया है। इस घोषणा पत्र हलांकि समाज के हर वर्ग को छूता है लेकिन मुख्य रूप से बेरोजगारी, किसानों की समस्या, महिलाओं की समस्या, जन स्वास्थ्य एवं शिक्षा पर बल देता है।

    डा. झा ने कहा कि घोषणा पत्र में एनवाईएवाई योजना के तहत देश में 20 प्रतिशत सबसे गरीब परिवार को 72000 रूपये, दस लाख युवाओं को पंचायत स्तर पर रोजगार उपलब्ध कराने, सत्ता में आने पर 6 महीने में 24 लाख रिक्त सरकारी नौकरी को भरने, मनरेगा में 100 दिन रोजगार गारंटी को बढ़ाकर 150 दिन रोजगार गारंटी करने, युवा उद्यमियों को छोटे-मोटे उद्योग लगाने के लिये तीन साल तक कोई अनुमति की जरूरी नहीं, किसानों के लिये ऋण माफी योजना चलाने तथा दलित, अल्पसंख्यक का पूरा ख्याल रखने एवं अन्य प्रावधान देश के सर्वांगीण विकास में मील का पत्थर साबित होंगे।

    डा. झा ने कहा कि महिलाओं के लिये लोकसभा एवं विधान सभा में एक तिहाई आरक्षण (33 प्रतिशत) करने, सरकारी नौकरियों में भी महिला को एक तिहाई आरक्षण का वायदा भी बड़ा क्रान्तिकारी कदम है।

    उन्होंने कहा कि घोषणा पत्र आम आदमी की उम्मीद को पूरा करेगा। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के कार्यकाल में 4 करोड़ 70 लाख नौकरियाँ चली गईं। उन्होंने कहा कि देश की अर्थव्यवस्था ठप्प हो गयी है। डा. झा ने कहा कि कांग्रेस पार्टी झूठे वायदे नहीं करती है और राजस्थान, मध्यप्रदेश एवं छत्तीसगढ़ में कांग्रेस सरकार के गठन के एक सप्ताह के भीतर किसान के कर्जे माफ हो गये।  

    डा. झा ने कहा कि घोषणा पत्र में किसान के लिये अलग बजट बनाने का निर्णय एक क्रान्तिकारी कदम है तथा इसमें किसानों के कर्ज, फसल एवं पशु बीमा तथा किसानों के सभी समस्याओं का समावेश रहेगा। साथ ही किसानों के ऋण नहीं चुकाने पर उनपर आपराधिक मुकदमा नहीं चलेगा।

    अखिल भारतीय कांग्रेस कमिटी के सचिव, बिहार प्रभारी बीरेन्द्र सिंह राठौर ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष द्वारा जारी घोषणा पत्र में सारे देश की जनता के विचार समाहित है।

श्री राठौर ने कहा कि सारे देश में घोषणा पत्र तैयार करने के लिये देश के युवाओं, किसानों, पढ़े-लिखे नौजवान, महिला, अल्पसंख्यक, मजदूर, दलित, उद्यमियों से अलग-अलग विचार-विमर्श कर उनकी समस्याओं को घोषणा पत्र में शामिल किया गया है।                

    प्रदेश कांग्रेस अभियान समिति के अध्यक्ष डा. अखिलेश प्रसाद सिंह ने कहा कि कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष राहुल गांधी द्वारा जारी चुनाव घोषणा पत्र देश से बेरोजगारी एवं गरीबी हटाने, किसानों की समस्या का समाधान करने का एक बेहतरीन दस्तावेज है।

    डा. सिंह ने कहा कि कांग्रेस के चुनाव घोषणा पत्र में सभी वर्ग, धर्म, सम्प्रदाय के लोगों का ख्याल रखा गया है।

    उन्होंने कहा कि कांग्रेस पार्टी जो वायदे करती है उसे सत्ता में आने पर पूरा करती है।

    घोषणा पत्र समिति के प्रदेश अध्यक्ष आनन्द माधव ने कहा कि शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार तथा कक्षा-1 से कक्षा-12 तक सरकारी स्कूलों में नि:शुल्क एवं आवश्यक शिक्षा एक क्रान्तिकारी कदम है तथा वर्ष 23-24 तक शिक्षा बजट को दुगुणा करते हुए जीडीपी का छ: प्रतिशत करना समाज में शिक्षा को नये सिरे से स्थापित करेगा।

    प्रदेश महिला कांग्रेस की अध्यक्ष अमिता भूषण एम.एल.ए., मीडिया विभाग के अध्यक्ष एच.के. वर्मा, प्रवक्ता राजेश राठौड़, जया मिश्रा, सुबोध कुमार ने भी कांग्रेस के चुनाव घोषणा पत्र को देश से गरीबी हटाने, बेरोजगारी दूर करने एवं देश के सर्वांगीण विकास का एक बेहतरीन दस्तावेज बताया है।



Share To:

Post A Comment: