बांका, (रिर्पोटर) : अमरपुर विधानसभा में एनडीए के जदयू उम्मीदवार गिरधारी यादव के चुनावी सभा के दौरान खचाखच भरे भीड़ को संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार कहा कि 2005 में जब हमने बिहार की गद्दी संभाली थी तब बिहार की स्थिति नारकीय दयनीय थी। आज मैं आपलोगें के सामने अपने विकासात्मक कार्य  के आधार पर वोट मांगने आया हॅू। कल तक छात्र-छात्राओं के पास स्कूल जाने केलिए साधन साधन का अभाव था इसलिए वे लोग स्कूल नहीं जाते थे आज बिहार सरकार ने पोशाक योजना, साइकिल योजना, छात्रवृति योजनाएं चला रही है। आज छात्र-छात्राएं बांका भागलपुर समेत पूरे बिहार के सरकारी स्कूलों में छात्र छात्राएं साइकिल से स्कूल आ-जा रही है। उन्होंने कहा कि शराबबंदी में जितने लोगों ने शपथ ली थी आज वे सभी शराबबंदी का विरोध करने में लगे हैं। उन्होंने कहा कि शराबबंदी गांव घर के महिलाओं के लिए बहुत बड़ी हितैषी वाला योजना साबित हुआ है। अब मुझे 13 साल तक काम करने का मौका मिला है। उन्होंने कहा कि सबका साथ सबका विकास’’ का संकल्प हर गरीब के सपनों को साकार कर रहा है। गरीबों को सिर छुपाने के लिए आशियाना मिल रहा है। 55 वर्षों के शासनकाल में कांग्रेस ने क्या कभी ऐसा सोंचा था या कभी किया था?
गरीबों को उज्जवला योजना के तहत गैस देकर हमारी माता-बहनों का अंधा होने से बचाया गया। आजादी की 75वीं वर्षगांठ पर वर्ष 2022 में सभी गरीबों को अपना घर का प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी जी का संकल्प नये भारत के निर्माण में एक नया आयाम साबित होगा। यही नहीं विश्व के सबसे बड़े स्वास्थ्य देखभाल कार्यक्रम ‘‘आयुष्मान भारत’’ के तहत 10 करोड़ गरीब परिवारों को प्रति वर्ष प्रति परिवार 5 लाख रूपये तक का व्यापक स्वास्थ्य कवरेज प्रदान किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि चुनाव जीतना और हारना अगल बात है मगर लोगों को सही बोलना चाहिए। 45 हजार टोले में सडक़ योजना सडक़ पक्कीकरण किया गया। बिहार में नेशनल हाइवे बन जाने से आज किसी भी कोने से मात्र छह घंटा में राजधानी पहुंचा जा जाता है। उन्होंने कहा कि विपक्ष कर्ज माफी की बात करती हैं तो कितने लोगों का कर्ज माफी किया गया। बिहार में कृषि कर्ज मिलता ही नहीं है। फसल बीमा के लिए केन्द्र सरकार सालाना 6 हजार रुपया सहायता राशि दे रही है। बीज खरीदने के लिए किसानों को इधर-उधर नहीं भटकना पड़ेगा। उन्होंने कहा कि बिहार के बरौनी में खाद्य फैक्ट्री बंद था उसका भी शिलान्यास किया गया और तुरंत चालू हो जायेगा। बांका में इंजीनियरिंग कॉलेज अगले साल से शुरू हो जायेगी।
मुख्यमंत्री ने कहा कि जहां देश का ग्रोथ रेट 7 प्रतिशत है वहीं बिहार में शराबबंदी के बाद ग्रोथ रेट 11.3 प्रतिशत हो गया। महिलाओं की आधी आबादी को आरक्षण दिया। एससी-एसटी एवं अतिपिछड़ों को भी 20 प्रतिशत आरक्षण का लाभ मिला। अतिपिछड़ा के लोग आज जिला परिषद सदस्य हैं। नाम लिये बगैर राजद पर हमला करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि 15 साल के शासनकाल में कितने अल्पसंख्यकों का भला किया गया। मेरी सरकार आयी तो मदरसों में शिक्षकों को सरकारी शिक्षक की तरह वेतन दिया गया। अगर किसी में दम है तो  काम पर बहस कराये। महात्मा गांधी के सात काम को गिनाया गया कि सिद्धांत के बिना राजनीतिक नहीं करनी चाहिए। मेहनत के बिना धन नहीं कमाना चाहिए, यह सामाजिक पाप है। 10 प्रतिशत युवाओं के बीच महात्मा गांधी के प्रेरणा को पहुंचाया जाये तो घर-घर में गांधी निकलेगा।
इस अवसर पर मंत्री रामनारायण मंडल, ललन शर्राफ, जदयू प्रवक्ता संजय सिंह, विधायक जनार्दन मांझी, मेवालाल चौधरी,  लोजपा जिलाध्यक्ष बेबी यादव, जदयू किसान प्रकोष्ठ के अध्यक्ष रवीन्द सिंह, भाजपा जदयू और लोजपा के जिलाध्यक्ष समेत अन्य कार्यकत्र्ता उपस्थित थे।

Share To:

Post A Comment: