पटना, (रिर्पोटर) : कैंसर से बचाव के लिए डॉक्टर लगातार प्रयास कर रहे हैं। पर अभीतक इसपर नियंत्रण नहीं पाया जा सका है। इसलिए  इलाज से परहेज बेहतर है। लोग जागरुक हों और समय पर डॉक्टर के संपर्क में आ जाये ंतो  ब्रेस्ट कैंसर से बचा जा सकता है। कुम्हरार में लिट्रा वैली के पीछे षांति निवास ऑडिटोरियम में ब्रेस्ट कैंसर से बचाव एवं जागरूकता के उद्वेष्य से आयोजित ओपेन टॉक शो में  मुख्य अतिथि के तौर पर बोलते हुए कैबिनेट मंत्री रविशंकर प्रसाद ने कहा सरकार एप बेस्ड आयोजित हेल्थकेयर पर ध्यान दे रही है ताकि गांव के लोगों का भी बेहतर इलाज हो सके। साथ ही टेक्नोलॉजी के उपयोग से भी इलाज में मदद मिल सकती है।

ओपेन टॉक शो में पटना एवं दिल्ली के कैंसर विशेषज्ञों ने खुलकर चर्चा की। ओपेन टॉक शो में सर्जिकल आंकोलोजिस्ट डा. वी. पी. सिंह ने ब्रेस्ट कैंसर के बढ़ रहे मामले के संबंध में कहा कि जागरूकता और समय पर इलाज से काफी हद तक नियंत्रण पाया जा सकता है। स्वस्थ जीवन शैली अपनाएं, मोटापे पर काबू पाएं और समय पर  इलाज कराएं। 

 

 

गुलमोहर मैत्री के सौजन्य से आयोजित   इस कार्यक्रम में एम्स के रेडियेशन आंकोलौजी विभाग की एचओडी डा. प्रीतांजलि सिंह ने कहा विश्व स्वास्थ्य संगठन के आंकडे बताते हैं कि वर्ष2020 तक हर 4 में से एक महिला के स्तन कैंसर से ग्रसित होने की आषंका है।  शरीर के किसी हिस्से में अचानक गांठ बन जाए तो संकोच न करें बल्कि जल्दी से डाक्टर से सम्पर्क करें। स्वयं परीक्षण करें। शादी ऐसे समय में हो कि 30 के पहले बच्चे पैदा हों। मां बनने पर ब्रेस्ट फीडिंग करायें।

कार्यक्रम में महावीर कैंसर संस्थान की डा. मनीषा सिंह ने भी ओपेन टॉक शो में अपने अपने विचार रखे। डॉ समरेन्द्र सिंह और क्लीनिकल साइकोलॉजिस्ट डा. बिन्दा सिंह भी इस मौके पर उपस्थित थीं।

 गुलमोहर मैत्री की फाउंडर मंजू सिन्हा ने बताया कि गरीब और मध्यम वर्ग के महिलाओं को स्वास्थ्य और स्वच्छता के प्रति जागरूकता पैदा करने के लिए  शहर की विशेषज्ञ स्त्री रोग एवं कैंसर चिकित्सा से जुड़े डाक्टरों की जानकारी से महिलाओं को जागरूक करने के लिए उनका यह अभियान लगातार चलता रहेगा। ब्रेस्ट कैंसर और सर्विकल कैंसर से बचाव के लिए समय पर चिकित्सकों तक पहुंचना और इलाज कराना सबसे आवष्यक है। विशेषज्ञ महिला चिकित्सकों का सहयेाग और समाज की जागरूक महिलाओं का समर्थन इस मुहिम में उन्हें लगातार मिलता रहा है।


Share To:

Post A Comment: