पटना, (रिर्पोटर) :भाजपा नेतृत्व वाले एनडीए का जनाधार आज बिहार, यूपी सहित सहित 20 राज्यों में काफी मजबूत हुआ है और16 राज्यों में हमारी सरकार है, इसलिए सोनिया गांधी किसी गलतफहमी में न रहें।2004 में अटलजी की सरकार को दूसरा मौका न देने की जनता से जो चूक हुई, वह 2019 में हर्गिज नहीं दोहरायी जाएगी। पहले दौर के मतदान से हवा का रुख साफ हो गया है। जैसे हमने डोकलाम में चीन को बता दिया कि यह 1962 का भारत नहीं, वैसे ही इस बार कांग्रेस को समझा देंगे कि यह 2004 की भाजपा नहीं है। 15 साल में भाजपा न केवल दुनिया की सबसे बड़ी पार्टी हो गई, बल्कि देश में पूर्वोत्तर,पश्चिम बंगाल और उड़ीसा से लेकर केरल तक पार्टी का प्रभाव बढ़ा। आज दलित, पिछड़ा,अतिपिछड़ा, किसान, महिला और युवाओं का हमें अपार समर्थन मिल रहा है।  रक्छा और विदेशी मामलों में ही नहीं, कश्मीर के अलगाववादियों और नक्सलियों के घरेलू मोर्चे तक हमारी सरकार ने बचाव की जगह घर में घुस कर मारने की जो नीति अपनायी,उसने लोगों का दिल जीत लिया।

2004 में यूपी-बिहार जैसे निर्णायक राज्यों में जहां हमारा संगठन कमजोर था, वहीं इन राज्यों में अब हमारी लोकप्रिय सरकारें हैं और कांग्रेस एक-एक सीट के लिए मोहताज है। आंध्र, महाराष्ट्र में कांग्रेस का किला ध्वस्त हो चुका है।  सोनिया गांधी ने भारत रत्न वाजपेयी का उपहास करते हुए जो बयान दिया है, उसका   जवाब जनता एनडीए सरकार को भारी बहुमत से सत्ता में लौटाकर देगी।


Share To:

Post A Comment: