पटना, (रिर्पोटर) : युवा राजद के प्रदेश प्रवक्ता सह मीडिया प्रभारी अरुण कुमार यादव ने डिप्टी सीएम सुशील मोदी के बयान पर पलटवार करते हुए कहा कि पीएम नरेंद्र मोदी अगर जन्मजात ओबीसी रहते तो खुद को जनसभा में कभी ओबीसी तो कभी अतिपिछड़ा होने का प्रमाणपत्र पेश करने की जरूरत नही पड़ता। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने ठीक ही कहा पीएम नरेंद्र मोदी जन्मजात अगड़े है और कागजी पिछड़े है।


सुशील मोदी गलत फहमी के शिकार है 23 मई को चुनाव परिणाम घोषित होने के बाद पता चल जाएगा।  बिहार के पिछड़ा,अतिपिछड़ा,दलित,वंचित,वर्ग का समर्थन किसके साथ है। राजद एम - वाई की नही बल्कि सामाजिक न्याय की पार्टी है। राजद में हर वर्ग समुदाय के गरीब कमजोर,वंचित लोगो का आस्था  है। नरेंद्र मोदी ने अपने पांच वर्षो के शासन काल में जनता से किए गए वादे में एक भी पूरा नही किया। लोगो का मोदी सरकार से विश्वास उठ चुका है। यह पीएम नरेंद्र मोदी अच्छी तरह समझ चुके है। इसलिए अपनी सरकार की नाकामियाँ को छुपाने  के लिए वोट के खातिर नरेंद्र मोदी ने भावनात्मक मुद्दों और जाति आधारित मुद्दों को उठा रहे है। मोदी सरकार को देश की जनता ने सत्ता हटाने का मन बना लिया है।


Share To:

Post A Comment: