पटना, (रिर्पोटर) : भाजपा अध्यक्ष नित्यानंद राय ने भाजपा के संकल्प पत्र को क्रांतिकारी और ऐतिहासिक बताया है। नित्यानंद राय ने कहा कि आजादी के 75वीं वर्षगांठ तक यानी साल 2022 तक के लिए 75 संकल्प लिए गए हैं, इस घोषणा पत्र में विश्व की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनने का लक्ष्य हैए घोषणा पत्र में कहा गया है कि राष्ट्रवाद के प्रति हमारी पूरी प्रतिबद्धता है, आतंकवाद के प्रति हमारी जीरो टॉलरेंस की नीति है, भारत में होने वाली अवैध घुसपैठ को रोकने के लिए हम पूरी सख्ती करेंगे, सिटिजनशिप अमेंडमेंट बिल को दोनों सदनों से पास कराएंगे और लागू करेंगे, इससे किसी राज्य की सांस्कृतिक और भाषाई संरचना पर कोई आंच नहीं आने देंगे।

प्रदेश अध्यक्ष श्री राय ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के वन मिशन, वन डायरेक्शन की चर्चा करते हुए कहा कि भाजपा का संकल्प पत्र सुशासन पत्र भी है। उन्होंने कहा कि यह संकल्प पत्र राष्ट्र की सुरक्षा का पत्र भी है। यह देश को समृद्ध बनाने के लिए सामान्य मानव को सशक्तिकृत कर जन भागीदारी को बढ़ाते हुए लोकतांत्रिक मूल्यों को बढ़ावा देते हुए देश को शक्तिशाली बनानेवाला है। गरीबी से लडऩा है तो 50 साल के अनुभव ने बताया है कि दिल्ली के एयर कंडीशन्ड कमरे में बैठा हुआ व्यक्ति गरीबी को समाप्त नहीं कर सकता। गरीब ही गरीबी को खत्म कर सकता है।

श्री  राय ने कहा कि इस संकल्प पत्र में कई ऐतिहासिक शुरुआत हैं। जैसे खेत मजदूर के लिए पेंशन। इस महत्वपूर्ण योजना की तरफ हम बढ़ रहे हैं। हमने संकल्प पत्र में बताया है कि 2047 में जब देश आजादी की 100वीं वर्षगांठ मनाए तब भारत विकसित देश की की ऊंचाई को छुए।

उन्होंने कहा कि राष्ट्रवाद हमारी प्रेरणा है, अन्त्योदय हमारा दर्शन है और सुशासन हमारा मंत्र है। 2022 में आजादी के 75 वर्ष पूरे होंगे। इसके लिए 75 लक्ष्य तय किए हैं। तय समय में हम इसे पूरा करेंगे। यह किसी घोषणा पत्र में आप पहली बार देख पा रहे हैं। पहले मोदी सरकार ने आवश्यकताओं को ध्यान में रख कर शासन चलाया, अब हम सामान्य जन की आकाक्षांओं को लेकर हम क्या कर सकते हैं, हमने उसे अपने घोषणा पत्र में शामिल किया है। श्री राय ने कहा कि इस घोषणा पत्र में कई ऐतिहासिक पहल शामिल हैं। जैसे घोषणा पत्र में वादा किया गया है कि किसान क्रेडिट कार्ड के 1 लाख तक के लोन पर पांच साल तक कोई ब्याज नहीं देना होगा। 2022 तक किसानों की आमदनी दोगुनी करेंगे, राम मंदिर निर्माण कराने की पूरी कोशिश करेंगे, 25 लाख करोड़ तक को ग्रामीण क्षेत्र के विकास में खर्च करेंगे, किसान सम्माहन निधि का लाभ सभी किसानों को मिलेगा, किसानों को 60 वर्ष की आयु के बाद पेंशन की सुविधा भी मिलेगी, छोटे दुकानदारों को पेंशन की सुविधा देंगे, नागरिक संशोधन बिल को पूरे देश में लागू करेंगे, आतंकवाद और उग्रवाद के विरुद्ध जीरो टॉलरेंस की नीति को पूरी दृढ़ता से जारी रखेंगे। बिहार भाजपा के अध्यक्ष ने कहा कि भाजपा का यह संकल्प पत्र दरअसल सुशासन, सुरक्षा और संरक्षा का प्रपत्र है।


Share To:

Post A Comment: