दरभंगा, (रिर्पोटर) : आज सुबह लगभग 11.00 बजे दरभंगा के राज मैदान में चौथे चरण के आयोजित चुनावी सभा को मैथिली भाषा में संबोधित करते हुए राजद और कांग्रेस पर जोरदार प्रहार किया वहीं मुख्यमंत्री नीतीश कुमार एवं उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी की जमकर तारीफ की। उन्होंने कहा कि लालटेन वाले भी बिहार में बिजली पहुंचा सकते थे लेकिन वे अपना धन एवं मॉल बनाने में लगे हुए थे। नीतीश कुमार ने लालटेन की विदाई कर घर-घर बिजली पहुंचाने का काम किया। उन्होंने कहा कि लाल किला से मैंने घोषणा की थी कि बिजली पहुंचाई जाएगी। नीतीश ने लालटेन की विदाई कर दी। पहले होटल बनते थे। हेलीकॉप्टर घोटाला होता था ये मिलावट करने वालों की सच्चाई है। उन्होंने उजियारपुर के एनडीए के भाजपा प्रत्याशी नित्यानंद राय, दरभंगा में भाजपा प्रत्याशी गोपाल जी ठाकुर, समस्तीपुर के लोजपा प्रत्याशी रामचन्द्र पासवान मधुबनी के भाजपा प्रत्याशी अशोक यादव के समर्थन में वोट मांगने आये। 
प्रधानमंत्री श्री मोदी ने जनता से आग्रह करते हुए कहा कि आपका एक-एक वोट मोदी के खाते में जाएगा, चौकीदार को मजबूत करेगा। हमारा देश मजबूत होना चाहिए, सरकार मजबूत होनी चाहिए। पीएम मजबूत होना चाहिए। श्री मोदी ने कहा कि कर्नाटक में आठ सीट वाले प्रधानमंत्री का सपना देख रहे हैं। ये जितने हैं, बाजार में चुनाव के मैदान में पीएम की लाइन में। आतंकवाद को कौन खत्म कर सकता है? मोदी अकेला नहीं कर सकता। ये काम कर सकता है आपका एक वोट। आपका मोदी आपके साथ मिलकर आतंकवाद से लड़ेगा और उसे खत्म करेगा। पीएम ने कहा कि 23 मई को नई सरकार बनने के बाद सबको किसान सम्मान योजना का लाभ मिलेगा। 2022 तक किसानों की आय डबल करने का काम ईमानदारी से काम करेगी। किसान ऊर्जा दाता बनेंगे, आप अपने खेत में सौर ऊर्जा पैदा करके सरकार को बेच सकें, ऐसी व्यवस्था है, सोलर फॉर्मिग की व्यवस्था है। किसानों को 60 साल बाद पेंशन मिले, इसके लिए हम संकल्पित हैं। नये तालाब बनाए जाएंगे। मखाना रिसर्च सेंटर मजबूत होगा। मछली पालकों के लिए अलग मंत्रालय बनेगा।
प्रधानमंत्री ने कहा कि आपने देखा होगा कि तीन चरण के मतदान के बाद ये जो उछल-उछल के गला फाड़ के स्ट्राइक के सुबूत मांग रहे थे अब अचानक गायब हो गए, जो पहले पाकिस्तान के पैरोकार कर रहे थे, वे अब मोदी और ईवीएम को गाली दे रहे। वे जनता की नब्ज नहीं समझ रहे। तीन चरणों में लोगों ने इन्हें ठीक से समझा दयिा है, अब ये बौखलाए हैं। उन्होंने कहा कि देश की रक्षा मजबूत इरादों की सरकार कर सकती, ये महामिलावाट वाले घोटाले के एक्सपर्ट है, वादों में भी घोटाले करते। 2004 का इनका घोषणा पत्र देखिए, 2009 तक देश के हर घर मे बजिली पहंचा देंगे, ये वादा पूरा हुआ, कांग्रेस और उसके साथयिों ने आपको धोखा दिया कि नहीं। 2014 में आपने कांग्रेस की नीयत को पहचाना और इस चौकीदार को मौका दिया।
एयर स्ट्राइक से सवाल पूछने वाले लोग गायब हो गए हैं, पहले मोदी को गाली देते थे अब ईवीएम को गाली दे रहे हैं। कुछ लोगों को भारत माता की जय और वंदे मातरम से नफरत है, ऐसे लोगों की जमानत जब्त होनी चाहिए। मोदी आतंकवाद खत्म करने की बात क्यों करता है, राष्ट्रवाद की रक्षा और आतंकवाद मुद्दा है या नहीं? जो बात की जानकारी जनता को है, उस बात की जानकारी महामिलावट करने वालों को नहीं है। हमारे आस-पास आतंकवाद की फैक्ट्री चल रही, आतंकवाद मुद्दा कैसे नहीं हो सकता? नरेन्द्र मोदी ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार और उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि इन दोनों को बधाई कि इनलोगों ने लालटेन को बिहार से विदा कर दिया और घर.घर बिजली पहुंचा दी। उन्होंने कहा कि पहले हर कोई सामान्य जीवन जीता था। आज जो पैसा गरीबों के काम आना चाहिए था, उनकी सुविधा के लिए खर्च होने चाहिए, वे पैसे बम, हथियार पर खर्च करने पड़ रहे। आतंकवाद ने सबसे ज्यादा नुकसान गरीबों को पहुंचाया है। देश के गरीबों का भला करने के लिए आतंकवाद को खत्म करना जरूरी है, महामिलावट करने वालों आपके लिए सुरक्षा मुद्दा नहीं है। ये आज का भारत है, घुस के मारेगा। दरभंगा ने आतंकवाद को करीब से देखा है। पीएम मोदी ने चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि आज देश का युवा एनडीए गठबंधन पर भरोसा करता है। ज्ञान, ध्यान, पान और मखान की धरती के लोगों को नमन। नई पीढी को पुराने समीकरण समझ में नहीं आते, वे नये भारत का सपना देख रहे हैं। देश का युवा वोटर अपने सपने की पूर्ति के लिए एनडीओ का समर्थन करता है। वंदे मातरम का उदघोष जीवन की शक्ति है।
इस अवसर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, केन्द्रीय मंत्री रामविलास पासवान,उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी, मंत्री मंगल पांडे, विनोद नारायण झा, मदन सहनी, महेश्वर हजारी, प्रेम कुमार, विधायक नीतीश मिश्रा, तिवारी, मिथिलेश तिवारी, संजय सरावगी, राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रेणु देवी, जदयू नेता संजय झा इत्यादि उपस्थित थे।

Share To:

Post A Comment: