मधुबनी, (रिर्पोटर)  : मधुबनी लोक सभा संसदीय क्षेत्र में चुनाव प्रचार का काम जैसे जैसे उफान पर आ रहा है वैसे वैसे उम्मीदवारों की स्थिति साफ हो रही है। इस संसदीय क्षेत्र में प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के युवा उम्मीदवार मो. खालिक अंसारी ने अपनी जोरदार उपस्थिति दर्ज करा दी है। मो. खालिक पिछड़ा मुस्लिम बिरादरी से आते हैं जो मधुबनी क्षेत्र में लगभग तीन लाख से अधिक की आबादी के एकमात्र सर्वमान्य समर्थित उम्मीदवार हैं। इस संसदीय क्षेत्र में दो बार अंसारी बिरादरी के प्रतिनिधि क्षेत्र का प्रतिनिधित्व कर चुके हैं। पूरे क्षेत्र के अंसारी बिरादरी इन दोनों संसद सदस्यों के बाद किसी भी दल के द्वारा टिकट नहीं दिए जाने से नाराज है। इसका भी लाभ खालिक अंसारी को मिलने वाला है। पिछले दो दषक से मुसलमानों की कथित रूप से हितैषी कहे जाने वाले राष्ट्रीय जनता दल ने भी टिकट नहीं दिया। यह चर्चा लोगों के बीच है। इसी उद्देश्य से प्रगतिशील समाजवादी पार्टी (लोहिया) के राष्ट्रीय अध्यक्ष शिवपाल सिंह यादव ने मुस्लिम पिछड़े बिरादरी के युवा उम्मीदवार के रूप में मो. खालिक पर भरोसा जताया है।

    संसदीय क्षेत्र के विधानसभा हरलाखी, बिस्फी, केवटी, जाले, बेनीपट्टी और मधुबनी में सघन जनसम्पर्क चलाने वाले मो. खालिक ने अपनी बिरादरी का अच्छा खासा जनसमर्थन हासिल कर लिया है। पंडौल, बहुआरा, जलबारा, मोमिनटोला आदि दर्जनों गॉवों में अंसारी बिरादरी ने खालिक अंसारी का पुरजोर समर्थन किया है।

    मो. खालिक ने प्रेस को बताया कि इस चुनाव में हमारा सीधा मुकाबला महागठबंधन के उम्मीदवार से है। महागठनबंधन के टिकट बेचने वाली नीति और बाहरी उम्मीदवार उतारने से अन्य पिछड़ी जातियों में आक्रोष है जिसका फायदा उन्हें मिल सकता है। ऐसा लगता है कि इस चुनाव में मोमिन बिरादरी जो काफी संख्या में इस क्षेत्र में मौजूद है उसके समर्थन से चमत्कारिक परिणाम देखने को मिलेगा जो हमारी जीत दर्ज करायेगा। मो. खालिक ने बताया कि इस क्षेत्र के किसानों, नौजवानों, महिलाओं एवं मोमिन बिरादरी के रोजी रोटी की समस्या के हल के लिए हमारा संघर्ष जारी रहेगा। इसलिए वे जनता से अपील करते हैं कि एक बार युवा उम्मीदवार पर भरोसा जताकर और समर्थन देकर सेवा का एक मौका जरूर दें। पूर्णरूप से जनता की आषाओं के अनुरूप खरा उतरने में उन्हें अवश्य सफलता मिलेगी।  






Share To:

Post A Comment: