पटना, (रिर्पोटर) :राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने बिहार की नीतीश कुमार सरकार पर आरोप लगाया है कि उसने प्रशासन की मदद से पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेंद्र कुशवाहा को मतदान करने से रोक दिया. रालोसपा के राष्ट्रीय महासचिव व प्रवक्ता फजल इमाम मल्लिक ने बताया कि पहले से तय कार्यक्रम के मुताबिक श्री कुशवाहा को तीन बजे वैशाली के महनार के जावज मतदान केंद्र पर वोट डालना था. श्री कुशवाहा नौतन, आदापुर, भोरे, लहलादपुर (एकमा) व तरैया की जनसभाओं के बाद महनार के जावज स्थिति मतदान केंद्र में अपने मताधिकार का प्रयोग करना था. लेकिन अंतिम समय में स्थानीय प्रशासन ने  कुशवाहा के हेलीकॉप्टर की लैंडिंग की इजाजत नहीं दी और श्री कुशवाहा अपना वोट डाल नहीं पाए। मल्लिक ने बताया कि हालांकि हेलीकॉप्टर लैंडिंग की इजाजत पहले ही ले ली गई थी लेकिन अंतिम समय में सरकार के इशारे पर प्रशासन ने श्री कुशवाहा के हेलीकॉप्टर को लैंड करने नहीं दिया। मल्लिक ने इसे बेहद दुर्भाग्यपूर्ण बताया और कहा कि यह लोकतंत्र के लिए खतरनाक है. मल्लिक ने कहा कि इस घटना से समझा जा सकता है कि सरकार अपने तंत्र का इस्तेमाल कर जब श्री कुशवाहा को वोट डालने से वंचित कर सकती है तो आम लोगों को तो प्रशासन और भी डरा-धमका कर वोट डालने से रोकती रही होगी. मल्लिक ने इस मामले में चुनाव आयोग से तत्काल हस्तक्षेप कर पूरी घटना का पर संज्ञान लेने की मांग की है। मल्लिक ने कहा कि सच तो यह है कि एनडीए जनता की भावनाओं के समझ चुकी और हताशा में यह कदम उठा रही है।

Share To:

Post A Comment: