पटना, (रिर्पोटर) : बिहार भाजपा के प्रवक्ता डा. निखिल आनंद ने भाई वीरेन्द्र द्वारा तेज प्रताप यादव को निशाना बनाये जाने पर कहा कि आरजेडी के मुख्य प्रवक्ता और मनेर के विधायक भाई वीरेन्द्र जी की कुंठा प्रस्तुति से स्पष्ट हो गया है कि परिवार और पार्टी में भयंकर मतभेद है। लालूजी के परिवार के लोगों ने पहले भाई वीरेन्द्र को लोकसभा उम्मीदवार बनाने का दिवास्वप्न दिखाया था लेकिन वे खुश होते इससे पहले ही तेजप्रताप यादव ने औकात. हैसियत पूछते हुए वीटो लगा दिया और अपनी दीदी मीसा भारती के लिए टिकट छीन लिया।

उन्होंने कहा कि तेजप्रताप के द्वारा बार-बार इज्जत-फजीहत और बेईज्जत किए जाने के बाद एक समय भाई वीरेन्द्र इतने डर गए थे कि तेज प्रताप को देखते ही विधायक जी की पतलून ढीली हो जाती है और वे रास्ता देखकर भाग चलते है। अब तेज प्रताप के बगावती तेवर एवं परिवार में विभेद के बीच मौका देखकर भाई वीरेन्द्र तेज प्रताप से बदला चुका रहे है। यही नहीं मनेर में अफवाह है कि भाई वीरेन्द्र के समर्थक मीसा भारती का विरोध करने में लगे हैं। भाई वीरेन्द्र का तेज प्रताप के विरुद्ध बयान अप्रत्यक्ष तौर पर मीसा भारती के विरुद्ध बयान है। निखिल ने दावा किया कि परिवार के भीतर टकराव के कारण राष्ट्रीय जनता दल के भीतर भी भयंकर मतभेद है और लोग भागने के लिए मौके की तलाश में हैं। पाटलीपुत्र से मीसा भारती की हार तय है और धरतीपुत्र रामकृपाल यादव लाखो वोटो से चुनाव जीतेंगे।


Share To:

Post A Comment: