पटना, (रिर्पोटर) : भाजपा प्रवक्ता डॉ. निखिल आनंद ने 'तेज सेना' की शुरुआत करने पर तेज प्रताप यादव को बधाई दी है। इससे पता चलता है कि तेज प्रताप में संघर्ष करने की अच्छी क्षमता है। लोकसभा चुनाव में राजद का सूपड़ा साफ होने के बाद मीसा भारती और तेजस्वी एक महीने से गायब है। लेकिन असफल होने के बावजूद तेजप्रताप कुछ न कुछ राजनीतिक अभियान में लगे रहते हैं।

 डॉ.निखिल आनंद ने कहा कि जब तेजस्वी यादव लोकसभा चुनाव में पार्टी और महागठबंधन का नेतृत्व करने में असफल हो गए तो उसके बाद से फरार हैं लेकिन तेजप्रताप परिवार और पार्टी द्वारा उपेक्षित होने के बावजूद रचनात्मक विचारों से लैस दिखते हैं। ऐसे में तेज लोकसभा चुनाव में हार के बाद पस्त- ध्वस्त राजद कार्यकर्ताओं को प्रेरित कर हौसला बुलंद करने में लगे हैं। इससे जाहिर होता है कि तेजप्रताप में तेजस्वी से ज्यादा गुण व समझदारी है जो लालू प्रसाद जी की विरासत एवं राजद का नेतृत्व दोनों संभाल सकते है। जब मीसा भारती एवं तेजस्वी यादव चुनाव हारने के बाद से गायब है तो ऐसे में हमें उम्मीद करनी चाहिए कि तेजप्रताप के नेतृत्व में राजद बेहतर विपक्ष की भुमिका निभाएगा।

निखिल ने राजद के वर्तमान नेतृत्व का उपहास करते हुए कहा कि अब तक की राजनीति देखने से साफ है कि तेजस्वी यादव के नेतृत्व में राजद एक अक्षम एवं असफल विपक्ष साबित हुआ है। इससे बेहतर विपक्षी नेता की भुमिका तो अब्दुल बारी सिद्दिकी ने निभाया था। ऐसे में राजद विधायको को चाहिए कि तेजस्वी को नेता पद से हटा कर दुसरा नेता चुन लें या फिर तेजप्रताप को मौका देना चाहिए।


Share To:

Post A Comment: