पटना, (रिर्पोटर) :राष्ट्रीय जनता दल के प्रदेश महासचिव भाई अरुण कुमार एवं अत्यंत पिछड़ा प्रकोष्ठ के प्रदेश सचिव उपेंद्र चंद्रवंशी ने एक संयुक्त प्रेस बयान जारी का चमकी बुखार के मुद्दे को लेकर आज सुप्रीम कोर्ट ने जिस प्रकार से राज्य सरकार एवं केंद्र सरकार को फटकार लगाई है उससे इनकी डबल इंजन की सरकार की पोल खुल गई है यहां तक कि रिपब्लिक भारत चैनल के स्टिंग ऑपरेशन में जदयू विधायक अशोक चौधरी ने यह कबूला है की राज्य सरकार आकंठ भ्रष्टाचार में डूबी हुई है स्वास्थ्य विभाग बिचौलियों के सहारे चल रहा है इसमें बड़ा ही भ्रष्टाचार है ऐसी स्थिति में सुशासन की पोल उनके विधायक ने ही खोल कर रख दिया है नीतीश कुमार अपने आप को संवेदनशील एवं नैतिकतावादी पुरूष मानते हैं और कई बार अपनी सरकार को कुर्बानी भी दी है ऐसी स्थिति में 200 बच्चों की मौत का जिम्मेवारी उन्हें लेनी चाहिए और एक बार पुनः उन्हें नैतिकता के आधार पर इस्तीफा देनी चाहिए अगर वह इस्तीफा नहीं देते हैं तो इसकी जिम्मेदारी स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडे पर थोपनी चाहिए और उन्हें बर्खास्त करनी चाहिए।



Share To:

Post A Comment: