पटना, (रिर्पोटर) : प्रधानमन्त्री नरेंद्र मोदी जी की मन की बात को जनता से सीधे संवाद का आज तक का सबसे बेहतरीन प्रयोग बताते हुए भाजपा प्रदेश प्रवक्ता सह पूर्व विधायक राजीव रंजन ने कहा “ 3 अक्टूबर, 2014 को शुरू हुए मन की बातकार्यक्रम की जबरदस्त लोकप्रियता ने प्रधानमन्त्री मोदी के व्यक्तित्व को एक अलग पहचान और ऊंचा मुकाम दिया है. जनता से सीधा संवाद स्थापित करने का पीएम मोदी का यह मासिक कार्यक्रम केवल भारत में ही नहीं विदेशों में भी काफी सराहा जा रहा है. स्पष्ट है कि रेडियो से सामाजिक क्रांति का दायरा अब ग्लोबल हो गया है. दरअसल जनता के बीच ख़ासा लोकप्रिय हो चुके इस कार्यक्रम के माध्यम से प्रधानमंत्री उन मुद्दों को उठाते हैं जिसे किसी परिवार के मुखिया या अभिभावक को उठाना चाहिए. याद करें तो माता-पिता का सम्मान, सामाजिक असमानता, प्रदूषण, किसानों को दी जाने वाली सब्सिडी, सामाजिक समरसता, परीक्षा, युवाओं की समस्याओं, बेटी बचाओ जैसे मुद्दों पर पीएम मोदी ने लोगों से इस कार्यक्रम के माध्यम से बात की, जिसे लोगों ने काफी सराहा. यही नही प्रधानमन्त्री मोदी हर मन की बात के बाद आम जनता से इस पर प्रतिक्रियाएं मंगवाते हैं और उसका जवाब भी देते हैं. स्वच्छता अभियान, सेल्फी विद डॉटर, बोर्ड परीक्षा में अधिक नंबर लाने के लिए बच्चों पर दबाव न डालने जैसी बातें लोगों के दिलों में उतरी लोगों ने उस पर अमल भी किया. दरअसल प्रधानमन्त्री मोदी ने इस कार्यक्रम को सामाजिक क्रांति का जरिया बना डाला है, जिसकी गूंज आज देश से विदेश तक सुनाई देती है. इस रविवार आयोजित मन की बात में भी प्रधानमन्त्री जी ने इस सिलसिले को बरकरार रखा और लोगों से जल संरक्षण की अपील की. पानी की कमी पर चिंता जाहिर करते हुए प्रधानमन्त्री जी ने आम जनता से स्वच्छ भारत अभियान की तरह जल संरक्षण को एक जनांदोलन बनाने का आग्रह किया. उन्होंने यह साफ़ कहा है कि जब जन जन जुड़ेगा तो ही जल बचेगा. प्रधानमन्त्री जी की इस अपील के बाद निश्चय ही लोग अब जल संरक्षण के लिए जागरूक होंगे।


Share To:

Post A Comment: