पटना, (रिर्पोटर) : सिर एवं रीढ़ की हडडी की चोटों से पीडि़त रोगियों को अनुपलब्ध पुनर्वास के लिए भटकना नहीं पड़ेगा। पटना स्थित आईएचआईएफ न्यूरो रिहैबिलिटेशन सेंटर में टीबीआई पीडि़तों की जरूरतें पूरी होगी।
सेंटर के मेडिकल डायरेक्टर डा. राजेन्द्र प्रसाद ने कहा कि इंडियन हेड इंजरी फाउंडेशन एक धमार्थ गैर सरकारी संगठन है। दिल्ली एवं जोधपुर के बाद आईएचआईएफ के समर्थन सेपटना में सेंटर संचालित है। इस संस्थान में टीबीआई पीडि़तों की जरूरत के अलावे सिर की चोट, सरब्रेलपाल्सी की भी सहायता प्रदान किया जाता है। ऐसे रोगी सर्जिकल या चिकित्सा उपहचार लेने के लिए राज्य से बाहर जाते हें लेकिन वापस आने के बाद कोई पुनर्वास उपलब्ध नहीं होने से काफी दिक्कतें होती थी इसी उद्देश्य से आईएचआईएफ रोगियों को सर्वोत्तम रिहैब प्रदान करती है जो नवीन उपकरण एवं प्रोदयोगिकी से लैश है।

Share To:

Post A Comment: