पटना,  (रिर्पोटर) : युवा राजद के प्रदेश प्रवक्ता सह मीडिया प्रभारी अरुण कुमार यादव ने उत्तर बिहार के मुज़फ्फपुर,पूर्वी चंपारण,पश्चिम चंपारण,शिवहर,सीतामढ़ी,वैशाली जिला अंतर्गत पिछले दो सप्ताह से इंसेफेलाइटिस अपना कहर बरपा रही है। इंसेफेलाइटिस जैसे जानलेवा बीमारियों से अभी तक लगभग 60 बच्चों की मौत हो चुकी है। दर्जनों बच्चें इंसेफेलाइटिस के चपेट में जिंदगी और मौत से जूझ रहे है। उसके बाबजूद नीतीश सरकार की आँखे नही खुली है। श्री यादव ने कहा कि इंसेफेलाइटिस से वर्ष 2010 में 24 बच्चें, वर्ष 2011में 45 बच्चें, वर्ष 2012 में 120 बच्चें, वर्ष 2013 में 50 बच्चें, वर्ष 2014 में 90 बच्चें की मौते हो चुकी है। वही लगातार हर वर्ष दर्जनों बच्चों की इंसेफेलाइटिस जैसे गंभीर बीमारियों के कारण मौते होते आ रही है। फिर भी नीतीश सरकार ने सबक नही लिया। नीतीश सरकार ने सिर्फ कागजों पर रोकथाम की खोखला दावा करते रहे। जमीन स्तर पर इंसेफेलाइटिस जैसी घातक बीमारियों को रोकने के लिए कोई समग्र नीति नही बनायी । जिसके चलते आज बच्चों की मौते हो रही है। इसके लिए पूरी तरह नीतीश सरकार दोषी है।



Share To:

Post A Comment: