पटना, (रिर्पोटर) : जागरुकता और समय पर डॉक्टर से  संपर्क से बहुत सी बीमारियों पर काबू पाया जा सकता है। हरमाह की 28 तारीख को राजाबाजार स्थित पिलर नंबर 68 के सामने डायनेमिक सुपर स्पेशयलिटी लिवर सेंटर में हेपेटाइटिस से बचने के लिए फ्री स्क्रीनिंग और वैक्सीनेशन दिया जाता है। डॉ सौरभ ने कहा कि हेपेटाइटिस बी से बचाव का एकमात्र उपाय टीकाकरण है। हेपेटाइटिस का अर्थलिवर में संक्रमण  सेहै। वैसे तो लिवर में संक्रमण कई कारणों से हो  सकताहै, पर वायरस का संक्रमण सबसे घातक होता है। 5 अलग अलग तरह के वायरस हेपेटाइटिस उत्पन्न करते हैं। ये हैंहेपेटाइटिस ए, बी, सी, डी और ई। हेपेटाइटिस और ई यह क्रमश: हेपेटाइटिस ए और ई वायरस के कारण होता है। मुख्य लक्षण बुखार रहना और भूख नहीं लगना ऐसा महसूस होना कि उल्टी होने वाली है। पेशाब का गहरा पीला होना  त्वचा औरआंख में पीलापन आना व खुजली होना जांचें। हेपेटाइटिस ए और ई का पता करने के लिए खून की जांच जैसे आईजीएम एंटीबॉडी , लिवर फंक्षन टेस्ट औरअल्ट्रासाउंड कराया जाता है।



Share To:

Post A Comment: