नई दिल्ली, (रिपोटर) :  पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया के लोकप्रिय एडूटनमेंट शो मैं कुछ भी कर सकती हूं ने लोकप्रिय मनोरंजन सामग्री के साथ लगातार दर्शकों के साथ जुड़ने का काम किया है. अभी क्रिकेट का विश्व कप चल रहा है. शो के निर्माता यह सुनिश्चित कर रहे हैं कि शो के प्रमुख संदेश आम लोगों के बीच बातचीत का हिस्सा बनें.

शो अपने सोशल मीडिया मंच पर 'आप में मस्त बल्लेबाज कौन? और क्यूं? # कहनी बदलो' के जरिए एक सन्देश देने का काम कर रहा है. संवाद में रचनात्मक फ्रेज या मार्कर शामिल हैं, जो सकारात्मक व्यवहार को दर्शाते है. जैसे, 'मस्त बल्लेबाज' (वे पुरुष जो हमेशा परिवार नियोजन की ज़िम्मेदारी लेते हैं और इसके लिए तैयार  रहते हैं) और 'मस्त पिटारा' (कपल के लिए उपलब्ध गर्भनिरोधक विकल्पों की बास्केट को लोकप्रिय बनाने के लिए) फ्रेज का इस्तेमाल किया जा रहा है. इन मार्कर्स को परिवार नियोजन,  शिशु जन्म अंतराल, पुरुष जिम्मेदारी और महिलाओं की पसंद पर बातचीत को प्रोत्साहित करने के लिए क्रिकेट फीवर के साथ ऑनलाइन जोड़ा जा रहा है. ये मार्कर लोगों को ऐसे मुद्दों पर सकारात्मक चर्चा करने की अनुमति देते है.

मुन्ना और बुआजी जैसे लोकप्रिय रेडियो स्टेशन जोड़ी को दिखाने वाले एक मीम का सन्देश है, “प्रोटेक्शन जरुरी है? ताकि खेल शुरु होने से पहले ही सारे विकेट ना गिर जायें!” भारत के एक और मैच के दौरान एक पोस्ट में लिखा था, “ शर्माजी ने जल्दबाजी की और आउट हो गये. आप ऐसी गलती मत करना. # मस्तपिटारे से कोई एक साधन अपना कर अपनी साझेदारी को बरकरार रखना.”

“मैं कुछ भी कर सकती हूं” एक युवा डॉक्टर डॉ स्नेहा माथुर की प्रेरक यात्रा के आसपास घूमती है, जो मुंबई में अपने आकर्षक कैरियर को छोड़ कर अपने गांव में काम करने का फैसला करती है. यह शो डॉ स्नेहा के प्रयासों पर केंद्रित है, ताकि सभी के लिए स्वास्थ्य संबंधी बेहतरीन गुणवत्ता सुनिश्चित की जा सके. उनके नेतृत्व में, गांव की महिलाएं सामूहिक प्रयास के ज़रिए अपनी आवाज़ उठाती हैं. फिरोज अब्बास खान द्वारा निर्मित और निर्देशित इस शो का निर्माण पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया ने किया है.

मैं कुछ भी कर सकती हूं भारत के राष्ट्रीय प्रसारक दूरदर्शन के प्रमुख कार्यक्रमों में से एक है. इसके कई रिपीट टेलीकास्ट, डब किए गए एपिसोड और 13 अलग-अलग भारतीय भाषाओं में टेलीकास्ट किए गए एपिसोड है. इस कार्यक्रम को देश भर के 216 ऑल इंडिया रेडियो स्टेशनों पर प्रसारित किया गया. इस बार, पॉपुलेशन फाउंडेशन ऑफ इंडिया को इस लोकप्रिय एडुटेनमेंट शो के तीसरे सीजन का निर्माण करने के लिए आरईसी फाउंडेशन और बिल एंड मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन ने समर्थन दिया है.


Share To:

Post A Comment: