पटना, (रिर्पोटर) : शेयर बाजार के अप्रत्याशित गिरावट होने पर बिहार कांग्रेस विधानमंडल दल के नेता सदानंद सिंह ने कहा कि शेयर बाजार का गिरना, देश की गिरती अर्थव्यवस्था का द्योतक है। क्योंकि शेयर बाजार अर्थव्यवस्था का ही बैरोमीटर है। इस गिरावट से निवेशकों को करीब 5 लाख करोड़ रुपये का घाटा हुआ है द्यमोदी 2 शासन के पेश पहले आम बजट के बाद इस कदर सेंसेक्स का ढहना गंभीर आर्थिक चिंता का विषय है।

श्री सिंह ने कहा कि आज शेयर बाजार में 870.9 अंकों तक की गिरावट आ गई। जिस दिन बजट पेश हुआ था, उस दिन भी करीब 500 अंकों तक की गिरावट दर्ज की गई थी। आर्थिक विशेषज्ञों का मानना है कि पहले से भारत की सुस्त अर्थव्यवस्था को गति देने का कोई उपाय बजट में नहीं होने की वजह से ही शेयर बाजार मेंयह गिरावट हो रही है। देश के इतिहास में शायद यह पहली बार देखने को मिल रहा है कि मजबूत सरकार की इतनी कमजोर आर्थिक नीति से आर्थिक वृद्धि प्रभावित हो रही है।

श्री सिंह ने कहा कि बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में लिस्टेड सभी कंपनियों की बाजार पूंजी जो शुक्रवार को 153ण्58 लाख करोड़ रुपये थी, वह आज सुबह में 148ण्43 लाख करोड़ रुपये हो गई थी। मोदी 2 सरकार ने ऐसी विचलित आर्थिक नीति अपनाई है कि करीब 2 हजार विदेशी फंड्स प्रभावित हुये हैं। जब विदेशी निवेशक ही नहीं आयेंगे तो ऐसी नीति से सरकार कैसे विकास दर 7 प्रतिशत प्राप्त कर सकती है?


Share To:

Post A Comment: