पटना, (रिर्पोटर) : स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने कहा है कि नेहरू-गांधी के वंशजों के हाथों ही कांग्रेस की दुर्गति तय है। उन्होंने कहा कि सोनिया गांधी के पुनः अध्यक्ष बनने के बाद कांग्रेस नेता भले ही पार्टी को मजबूत होने की आस पाले बैठे हों, लेकिन यह सच है कि कांग्रेस का बुरा हाल सोनिया गांधी के हाथों हुआ और यह भी तय है कि पार्टी की लुटिया उन्हीं के हाथों डूबेगी। देश की जनता युवराज की तरह ही राजमाता को भी नकार कांग्रेस को नेपथ्य में पहुंचाने का काम करेगी।

     श्री पांडेय ने कहा कि मां-बेटे भारतीय राजनीति में अपने पुर्वजों की तरह ही वंषवाद को बढ़ावा दे रहे हैं। यही कारण है कि कभी मां तो कभी बेटा ही अध्यक्ष चुने जाते हैं। हाल यह है कि जिस व्यक्ति ने अपनी जिम्मेवारियों से भागकर कांग्रेस की बागडोर अपनी मां के चरणों में फेंक दिया हो, वह हर चुनाव में देश का नेतृत्व करने का दंभ भरता है, पर हर चुनाव में जनता इनकी हवा निकाल देती है। नेतृत्व क्षमता का यह हाल है कि वह अपने परिवार की परंपरागत सीट तक को नहीं बचा पाते हैं।

     श्री पांडेय ने कहा कि कांग्रेस नेहरू परिवार की छत्रछाया से बाहर नहीं निकल पा रही है। स्थिति यह है कि आंतरिक लोकतंत्र की हत्या कर मां-बेटे प्राइवेट कंपनी की तरह पार्टी को चला रहे हैं और लोकतंत्र की दुहाई दे रहे हैं। कांग्रेस के पारिवारिक नेतृत्व का नतीजा है कि 2014 का चुनाव सोनिया गांधी के नेतृत्व में हारी और 2019 का चुनाव अपने युवराज के नेतृत्व में ऐसा हारी कि राहुल गांधी उत्तर से दक्षिण पहुंच गए। अगला चुनाव में कांगे्रस का यह हाल होगा उसकी राजमाता की परंपरागत सीट भी साथ छोड़ देगी।


Share To:

Post A Comment: