पटना, (रिर्पोटर) : बिहार निषाद संघ कार्यालय में स्व. फूलन देवी की स्मृति में उनकी 56वीं जयंती समारोह मनायी गयी। जिसकी अध्यक्षता करते हुए संघ के प्रदेश अध्यक्ष ई. हरेन्द्र  प्रसाद निषाद ने कहा कि फूलन देवी का जन्म उतर प्रदेश के जलौन जनपद के पूर्वा ग्राम में गरीब मल्लाह परिवार में पैदा हुई थी। समाज में यौन उत्पीडऩ और भेदभाव की परिस्थितियों ने इन्हें एक डकैत गिरोह का प्रमुख बनने के लिए मजबूर होना पड़ा एवं जुल्म और अत्याचार करने वाले दबंगों से बदला लेने के बाद चर्चा में आयी। उतर प्रदेश के ही भदोही से दो बार सांसद बनी फूलन देवी की हत्या 25 जुलाई, 2001 को दिल्ली उनके आवास पर ही कर दी गयी थी।

प्रधान महासचिव रामाशीष चौधरी ने कहा कि इनके जीवन से प्रेरणा लेकर निषाद समाज को हमेशा जुल्म व अत्याचार के खिलाफ संघर्ष के लिए तैयार रहना चाहिए। संघ के महासचिव अवध कुमार चौधरी ने कहा कि प्रतिष्ठित  पत्रिका  टाइम द्वारा वैश्विक सर्वेक्षण में फूलन देवी को चौथा स्थान दिया गया। मुख्य संरक्षक चरितर चौधरी ने फूलन देवी को भारत रत्न देने की मांग की।

इस अवसर पर शशि भूषण कुमार, धीरज कुमार निषाद, दिलीप कुमार निषाद, कैलाश सहनी, रघुनाथ महतो, राजेन्द्र सिंह निषाद, बैजनाथ सिंह निषाद, देशज जलज,  अभिमन्यु सिंह निषाद, कृष्णा देवी, लाल बाबू सहनी, नीरज कुमार सहित अन्य कई लोग मौजूद थे।


Share To:

Post A Comment: