पटना, (रिर्पोटर) :राष्ट्रीय लोक समता पार्टी ने केंद्र सरकार के कश्मीर में धारा-370 और अनुच्छेद 35-ए को लेकर उठाए गए कदम पर सवाल उठाते हुआ कहा कि सरकार ने जिस तरीके से इसे पेश किया वह गलत है. पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष और पूर्व केंद्रीय मंत्री उपेंद्र कुशवाहा ने कहा कि केंद्र को इस तरह के कदम उठाने से पहले जम्मू-कश्मीर के लोगों को विश्वास में लेना जरूरी था. कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है लेकिन यह भी उतना ही सच है कि वह इलाका बेहद संवेदनशील है. इसलिए कोई भी कदम उठाने से पहले सरकार को हर पहलू पर गौर करना चाहिए. सरकार ने इसे लेकर जिस तरह की हड़बड़ी दिखाई है उससे कश्मीर के लोगों में गलत संदेश गया है और लोकतंत्र के लिए यह सही नहीं है. उपेंद्र कुशवाहा ने जम्मू-कश्मीर और लद्दाख को केंद्र शासित प्रदेश घोषित किए जाने की भी आलोचना की और कहा कि इससे भाजपा की नीयत पर सवाल उठ रहा है. कुशवाहा ने कहा इससे साफ है कि केंद्र सरकार जम्मू-कश्मीर व लद्दाख में अपनी सत्ता बनाए रखना चाहती है. उन्होंने कहा लोकतंत्र की बहाली के लिए जरूरी है कि लोग अपनी सरकार चुनें जो उनके हितों की रक्षा करे. लेकिन केंद्र के इस कदम से लोगों की लोकतांत्रिक अधिकारों का हनन होगा।


Share To:

Post A Comment: