पटना, (रिर्पोटर) : राष्ट्रीय समता पार्टी-से., लोक  जनशक्ति पार्टी से. समाजवादी पार्टी सहित कई पार्टियों के नेताओं ने मिलकर बिहार नव निर्माण मोर्चा का गठन किया। जिसमें राष्ट्रीय समाजवादी मोर्चा के डा. अरुण कुमार पूर्व सांसद राष्ट्रीय समता पार्टी से. के डा. अजय सिंह अलमस्त, नरेंद्र सिंह पूर्व मंत्री, श्रीमती रेणु कुशवाहा, लोक जन शक्ति पार्टी से. डा. सत्यानंद शर्मा, विजय कुशवाहा पूर्व आईजी, उमेश कुमार पूर्व विधायक केडी यादव, मुखिया ऋतू जायसवाल सहित अन्य प्रमुख  लोग उपस्थित थे।

इस बैठक में  डा. अरुण कुमार ने कहा कि आज बिहार अराजकता के दौर से गुजर रहा है। इस सरकार में अजय वर्मा जैसे पदाधिकारयों को दिन-दहाड़े पिटाई की जाती है और थाना यह कहता है ये एरिया मेरे क्षेत्र में नहीं आता है। जब पूर्व डीआईजी जैसे लोग सुरक्षित नहीं है तो आम जनता की सुध लेने की बात कोई कैसे कर सकता है। सरकार स्पेशल स्टेटस और विशेष राज्य के दर्जे पर चुप्पी साधे हुए है दिखावे के लिए 40 ट्रक बिहार की अवाम का हस्ताक्षर युक्त कागज में सरकार पैसा बर्बाद कर चुकी है। इन कागजों का क्या हुआ इस पर भी सरकार को जवाब देना चाहिए। उन्होंने कहा की समान विचारधारा के लोगो को एकजुट करना मेरा मकसद है।

पूर्व मंत्री नरेंद्र सिंह ने अपने संबोधन में कहा कि बिहार की आम जनता की आवाज को उठाने के लिए मोर्चा का निर्माण किया गया है। दल को पीछे रखना है बिहार की जनता के समस्याओं को आगे रखना है किसानों के बड़े सवाल है। 70 प्रतिशत लोगों की आबादी किसानों पर निर्भर है, क्योंकि बिहार में कोई कल कारखाना है, लेकिन  बिहार के किसान फटेहाल-बदहाल है। उत्तर बिहार बाढ़ से दक्षिण बिहार सुखाड़ से तबाह है गन्ना किसान त्राहिमाम कर रहे हैं। क्योकि उनको समर्थन मूल्य नहीं मिला रहा है। निवेश की बात कागजो पर ही दौड़ती नजर आती है।

 पूर्व मंत्री रेणु कुशवाहा ने कहा कि किसानों को लागत मूल्य से डेढ़ गुना अधिक मिलना चाहिए। किसानों के लिए सरकार की तरफ से अलग दुकान की व्यवस्था होनी चाहिए। 25 लाख का लोन किसानों को 3 प्रतिशत ब्याज पर बिना किसी गारंटी के मिलना नीतीश सरकार लालू सरकार से 100 प्रतिशत ज्यादा भ्रष्ट है लोग बाढ़ से बेहाल है सरकार, चैन की नींद सो रही है।

लोक जनशक्ति पार्टी सेकुलर के नेता सत्यानंद शर्मा ने कहा कि जब पुरे सरकार में भ्रष्ट्राचार की बात होती है बहस की कोई बात नहीं रह जाती। अफसर शाही चरम सिमा पर है।  परिवर्तन की लड़ाई लडक़र नीतीश जी को मुख्यमंत्री बनाया था लेकिन वे खुद सृजन घोटाले जैसे कारनामे कर जाते हैं। व्यवस्था परिवर्तन के लिए सदैव मोर्चा के साथ  रहूंगा।

इस मौके पर राष्ट्रीय समता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष डा. अजय सिंह अलमस्त, हुमायु अंसारी, विज्ञान स्वरुप सिंह, खुर्शीद अनवर, राजकुमार, जीतेन्द्र शुक्ला, राजबंस तिवारी, रविशंकर उर्फ पप्पू शर्मा, नविन सिंह, राजीव रंजन उर्फ टूटल, मनोज कुमार उर्फ गुड्डू शर्मा, श्रीनिवास मिश्रा, माया श्रीवस्तव, नूतन सिन्हा, अनीता देवी, जयमंगल ठाकुर, गजेंद्र मांझी, कत्र्तव्य कुमार ज्योति, अवधेश कुशवाहा, मंसूर आलम, विष्णु पासवान एवं कार्यकर्ता उपस्थित थे।


Share To:

Post A Comment: