पटना, (रिर्पोटर) :आप पार्टी के प्रदेश उपाध्यक्ष  मनोज कुमार ने कहा कि नीतीश कुमार  के इशारे पर अनंत सिंह को गिरफ्तार करने के मामले में उतावली बिहार पुलिस बदले की भावना से  से ओत- प्रोत दिख रही है। आज अनंत सिंह को बिहार वापिस लाने गई एसपी लिपि सिंह द्वारा बाहुबली विधायक अनंत सिंह को ट्रांजिट रिमांड पर लेने के दौरान  जदयू के राज्यसभा सांसद आरसीपी सिंह की गाड़ी का इस्तेमाल करना इस बात का सबूत है। विदित है कि विधायक अनंत सिंह का इस्तेमाल वर्तमान मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने 15 वर्षो तक राजद से टकराने में लालू के मोहरे शहाबुद्दीन के काट के रूप में किया था।सरकार के प्रोटेक्शन में अनंत सिंह की दबंगई बढ़ती गई।सरकार अगर निष्पक्ष रूप से चाहती तो अनंत सिंह 15 साल पहले सलाखों के पीछे पहुंचा दिए गए होते। वर्तमान समय मे अनंत सिंह को गिरफ्तार करने की  करवाई पिछले लोकसभा चुनाव में अनंत सिंह द्वारा नीतीश कुमार के खिलाफ बगावत का परिणाम है।  प्रदेश उपाध्यक्ष ने कहा है कि इस गिरफ्तारी  प्रकरण की अगर ईमानदारी से जाँच कराई जाए तो 'राजनेता- अपराधी' गठजोड़ के कई सबूत सामने आ सकते हैं।


Share To:

Post A Comment: