पटना, (रिर्पोटर) :राष्ट्रीय जनता दल अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ की बैठक माननीय नेता प्रतिपक्ष  तेजस्वी प्रसाद जी के 01 पोलो रोड आवास में हुई जिसकी अध्यक्षता अतिपिछड़ा प्रकोष्ठ के प्रदेश अध्यक्ष प्रो. रामबली सिंह चन्द्रवंशी ने करते हुए कहा कि अत्यंत पिछड़ा प्रकोष्ठ सभी प्रकोष्ठों से ज्यादा सदस्य बनायेंगे और 10 लााख से भी ज्यादा लोगों को पार्टी का सदस्य बनाया जायेगा।
बैठक को संबोधित करते हुए नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी प्रसाद यादव ने कहा कि मुझे खुशी है इस आवास का गृह प्रवेश अतिपिछड़ा वर्ग के लोगों के द्वारा हुआ तथा अतिपिछड़ा वर्ग प्रकोष्ठ के कार्यालय के लिए इसी आवास में दो कमरा दिया हंू। राजद आने वाला विधानसभा चुनाव में अत्यंत पिछड़ा वर्ग के लोगों का उचित प्रतिनिधित्व देगी। संगठन में भी पंचायत स्तरए प्रदेष स्तर में 60 प्रतिशत अतिपिछड़ो को पदाधिकारी बनाया जायेगा। लालू जी ने जो अतिपिछड़ों को आवाज देने का काम किया और अब मैं इसी वर्ग के लोगों को उचित सम्मान देने का काम करूंगा। उन्होंने कहा कि आबादी के अनुरूप 100 प्रतिशत आरक्षण दिया जाना चाहिए। भाजपा  हिन्दूवाद करती है। हमलोगों का मानना है कि देश सभी जातिए वर्ग एवं धर्म के लोगों का है। बिहार में अपराध चरम पर है और सुशासन बाबू सुशासन की दावा करते हैं और नारा देते हैं कि ठीके है। तेजस्वी ने केन्द्र सरकार पर हमला बोलते हुए कहा कि 70 साल में पहली बार इतनी मंदी आयी है और सुशील मोदी का सावन-भादो की मंदी नजर आती है। तेजस्वी ने कहा है कि नया बिहार बनाना है तो सभी अतिपिछड़ों को एकजुट होना पड़ेगा और राजद के झंडे के अन्तर्गत काम करना होगा।
बैठक को संबोधित करते हुए राजद के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष शिवानंद तिवारी ने तेजस्वी जी के द्वारा अतिपिछड़ों वर्ग के लोगों को पंचायत से लेकर प्रदेश स्तर तक 60 प्रतिशत भागीदारी दिये जाने पर खुशी जाहिर किया और कहा कि जिस दिन यह हकीकत में उतर जायेगी राजद का चेहरा बदल जायेगा और उस दिन तेजस्वी को मुख्यमंत्री बनने से कोई नहीं रोक सकता है।
बैठक को तमाम जिलाध्यक्षों के साथ प्रदेश पदाधिकारियों ने भी संबोधित किया और तेजस्वी जी से मांग किया कि अपने घोषणा को प्रदेश के नेता एवं जिला के नेताओं पर निगरानी रखें कि घोषणाओं के अनुरूप कार्य पर अमल हो रहा है कि नहीं।
बैठक को संबोधित करने वालों में पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव, विधायक शक्ति सिंह यादव, प्रदेश महासचिव भाई अरूण कुमार, चन्द्रदेव बिन्द, भोला सहनी, ई. रौशन कुमार मंडल, अजय कुमार, भास्कर चैहान, दिनेश पाल, सीमा देवी, अरविन्द सहनी, ई. नरेश महतो एवं उपेन्द्र चन्द्रवंशी सहित कई शामिल थे। 

Share To:

Post A Comment: