पटना, (रिर्पोटर) : 9 वीं बटालियन एनडीआरएफ बिहटा (पटना) द्वारा सोमवार को नेहरू युवा केन्द्र संगठन के स्वयंसेवकों को आपदा प्रबंधन पर एक सप्ताह का प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया। इस मौके पर 9वीं बटालियन एनडीआरएफ के कमान्डेंट श्री विजय सिन्हा तथा द्वितीय कमान अधिकारी श्री रवि कान्त, प्रशिक्षण अधिकारी श्री कुमार बालचंद्र एवं ट्रेनिंग टीम के सदस्य मौजूद थे।

श्री विजय सिन्हा, कमान्डेंट ने बताया कि आपदा प्रबंधन विषयों पर चलाया जा रहा यह प्रशिक्षण कार्यक्रम 02 से 06 सितम्बर तक चलेगा। इस प्रशिक्षण में भागलपुर जिलान्तर्गत कहलगाँव प्रखण्ड के नेहरू युवा केन्द्र संगठन के 29 स्वयंसेवकों को प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इस दौरान इन स्वयंसेवकों को आपदा प्रबंधन से सम्बंधित विभिन्न पहलुओं जैसे- आपदा, आपदा के प्रकार एवं प्रभाव, बाढ़- बचाव तकनीक, अस्पताल पूर्व चिकित्सा तकनीक, खोज एवं बचाव तकनीक, साइबर जागरूकता, आपदा के दौरान संचार प्रणाली, सर्पदंश प्रबंधन आदि के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी जायेगी।

डिपार्टमेंट ऑफ यूथ अफेयर्स, भारत सरकार के सहयोग से तथा बल मुख्यालय एनडीआरएफ, नई दिल्ली के निर्देशानुसार पायलट प्रोजेक्ट के तहत बिहार के भागलपुर जिलान्तर्गत 16 प्रखण्डों तथा झारखंड राज्य के देवघर जिलान्तर्गत 10 प्रखण्डों के नेहरू युवा केन्द्र संगठन के 780 स्वयंसेवकों को अलग-अलग 20 बैचों में इस प्रकार का प्रशिक्षण 9 बटालियन एनडीआरएफ द्वारा दिया जायेगा।

अपने उदघाटन भाषण में श्री विजय सिन्हा, कमान्डेंट ने कहा कि आपदा जोखिम न्यूनीकरण हेतु सामुदायिक क्षमता निर्माण बहुत ही जरूरी है। उन्होंने प्रतिभागियों से कहा कि पूरे प्रशिक्षण कार्यक्रम में आप बढ़- चढ़कर उत्साह के साथ हिस्सा लें तथा आपदा प्रबंधन एवं रेस्पांस के क्षेत्र में अपनी जानकारी को बढ़ाये जिससे कि आप आपदा में लोगों की मदद कर सकें।

Share To:

Post A Comment: