डाल्टेनगंज, (रिर्पोटर) : डाल्टेनगंज के हाउसिंग कॉलोनी में भाजपा के बूथ सम्मेलन कार्यक्रम के बाद खुले में फेंके गए खाद्य पदार्थों को खाकर 10 से 15 की संख्या में गोवंशों के मरने की घटना पर के बाद घटनास्थल पर पहुंचे सुबे के पूर्व मंत्री के एन त्रिपाठी ने इस पूरी घटना को बेहद दुर्भाग्यपूर्ण करार देते हुए मुख्यमंत्री रघुवर दास को गौ हत्या के लिए जिम्मेदार ठहराया और कायक्रम में उपस्थित सभी नेताओं को प्रायश्चित के लिए गंगा स्नान करने के लिए सलाह दी। लोगों का कहना है कि बीते 31 अगस्त को हाउसिंग कॉलोनी के मैदान में भाजपा का प्रमंडलस्तरीय बूथ कार्यकर्ता सम्मेलन का आयोजन हुआ था, जिसमें उपस्थित लोगों के भोजन के पश्चात बाकी खाना खूले मैदान में ही फेंक दिया गया, जिसे वहां के मवेशी खा गये। अभी तक सूचना के मुताबिक मरनेवाले गायों की संख्या 10 से 15 के करीब है, वहीं कुछ की हालत अभी भी खराब है।

पूर्व मंत्री के एन त्रिपाठी ने इस मामले पर रोष व्यक्त करते हुए गायों के मालिकों को उचित मुआवजा देने की मांग की है, जबकि दूसरी ओर जिनके घर की गायों की मौत हुई है, उनका गुस्सा बढ़ता जा रहा हैं, इन महिलाओं का कहना है कि भाजपा वालों ने अपना कायक्रम तो कर लिया पर हमारे घरों की खुशियां छीन ली, अब इन गायों की मौत के बाद हम अपना घर कैसे चलायेंगे, सबसे बड़ी मुश्किलें तो यह उनके सामने आ गई।


उन्होंने भाजपा के नेताओं और मुख्यमंत्री रघुवर दास को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि धर्म सिर्फ  वोट मांगने का साधन नहीं धर्म के मांग पर चलना ही उसको अंगीकृत करना है इसलिए आप धर्म के रास्ते पर चलते हुए विष्णु पुराण के मुताबिक इन मृत गायों के मरने से लगे गऊ हत्या का पाप से छुटकारा पाने के लिए मुख्यमंत्री गंगा स्नान कर पूरे विधि विधान से दान दक्षिणा करें।

इसके साथ ही श्री त्रिपाठी ने बैरिया स्थित हाउसिंग कॉलोनी के नाम बदले जाने को लेकर भी आपत्ति जताई और कहा कि वर्ष 2015 में राजयसु यज्ञ के समय यहां आये श्री शंकराचार्य ने इस जगह को राजयसु नगर का नाम दिया था लेकिन सरकार द्वारा भाजपा के संस्थापक रहे स्वर्गीय अटल बिहारी के नाम पर अटल नगर  रखने का विरोध किया।


Share To:

Post A Comment: