पटना, (रिर्पोटर) :  अखिल भारतीय प्रांतीय प्रवासी एवं दलित विकास मंच के राष्ट्रीय अध्यक्ष  गोपाल झा पत्रकारो से वार्तालाप कर  कहा की  बिहार  पूर्वांचल वासियों कि समस्यायो कि लड़ाई लडऩे वाले मधुबनी निवासी  प्रभाष झा को आज खुद मदद की जरूरत आ गयी है। 15 वर्षो से अधिक लड़ता आ रहा हो इतना ही नहीं बिहार से आये हुए मरीजों को दिल्ली के अस्पताल में तन मन धन से मदद करनाए जरूरत पडऩे पे खुद का रक्त से लेकर कई लोगो से रक्त-दान करा कर इलाज करवाता हो ऐसे सामाजिक कार्यकर्ता जब मधुबनी जिला स्थित अपने गांव की स्थानीय समस्या को लेकर आवाज़ उठाता हो तो असामजिक तत्व ने स्थानीय प्रशासन से मिल कर उसके ऊपर प्राथमिकी दर्ज कर उसे और उसके पिता को जेल भेज दिया जाता है।  स्थानीय थाना रुद्रपुर कि पुलिस ने उसके साथ मारपीट करते हुए काफी प्रताडऩा भी दिया जबकि  प्रभाष झा ने भी असामाजिक तत्वों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराइ लेकिन कोई करवाई नहीं कि गयी । मंच पुलिस महानिदेशक से मांग करती  है कि प्रभाष झा को न्याय मिले इस सम्बंध में हमने बिहार के  डीजीपी कार्यालय एंव मुख्यमंत्री कार्यालय को आवेदन पत्र दिया है।

संवाददाता सम्मेलन न्याय-मंच बिहार के संस्थापक सदस्य पवन राठौर, केशव पांडेय, नितेश यादव और बबलू मिश्र समेत अन्य उपस्थित थे।



Share To:

Post A Comment: