पटना, (रिर्पोटर) : जन अधिकार पार्टी (लो) के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव एजाज  अहमद ने कहा कि जन अधिकार पार्टी (लो) और पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष राजेश रंजन उर्फ पप्पू यादव हमेशा इस बात के पक्षधर रहे हैं कि  उन्माद और नफरत की राजनीति के खिलाफ देश तथा बिहार में एक व्यापक और मजबूत धर्मनिरपेक्ष एवं सामाजिक न्याय की  धारा बननी चाहिए।

उन्‍होंने कहा कि देश के वर्तमान राजनीतिक एवं सामाजिक माहौल में जिस तरह से भाजपा अपने एजेंडे को लगातार लागू कर रही है, उसके कारण देश के लोगों में बेचैनी है। नफरत का माहौल खड़ा करके भाजपा वैसी शक्तियों को समाप्त करना चाहती है, जो कहीं ना कहीं देश और बिहार के व्यापक हित में सोच रखती है। बिहार में एनडीए के खिलाफ एक मजबूत एवं व्यापक गठबंधन बनाने के पक्ष में जाप (लो) और पप्पू यादव  शुरू से रहे हैं।  खुशी की बात है कि देर से ही सही अब जाप के पहल को कांग्रेसहम और राजद ने भी समझा है। और इस पहल में सभी दलों एवं नेताओं को जोड़ने के पक्ष में सभी  दल के नेता है। इससे आगामी विधानसभा चुनाव में मजबूत महागठबंधन आकार ले सकेजो भाजपा को मात दे सकें।

अहमद ने कहा कि बिहार के वर्तमान राजनीतिक परिस्थितियों में महागठबंधन के सभी नेताओं एवं कार्यकर्ताओं को इस बात के लिए भी सजग रहकर व्यापक सोच के साथ आगे बढ़ना होगा। बिना नेतृत्व  का सवाल खड़ा कियेक्योंकि यह कोई मुद्दा नहीं है। उन्‍होंने आगे कहा कि बिहार में एनडीए की जो सरकार  चल रही है उसके खिलाफ ना सिर्फ व्यापक सोच बनाने की आवश्यकता है, बल्कि अहम और टकराव से अलग हटकर संघर्ष और आंदोलन की नींव को भी मजबूत करने की आवश्यकता है।  यह बात सभी को पता है कि लोकसभा चुनाव में किन कारणों से राष्ट्रीय एवं बिहार स्तर पर ऐसा परिणाम महागठबंधन को देखने को मिला। अब इन बातों को दोहराने की आवश्यकता नहीं है ,बल्कि इससे सीख ले कर आगे बढ़ने की आवश्यकता है। इसके लिए महागठबंधन के सभी नेता बिहार और देश के व्यापक हित में एनडीए से मुकाबला के लिए  बेहतर सोच के साथ आगे बढे।  


Share To:

Post A Comment: