दानापुर, (रिर्पोटर) : दानापुर स्थित डीएवी स्कूल में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन को सेवा सप्ताह के रूप में मनाते हुए उनके  जीवन यात्रा पर आधारित नमो प्रदर्शनी का आयोजन किया गया। सेवा सप्ताह का उद्घाटन कर  पूर्व केन्द्रीय राज्य मंत्री सह भाजपा सांसद रामकृपाल यादव ने कहा कि हमलोगों के यहां कहावत है कि पालने में ही पूत के लक्षण का पता चल जाता है। यह बात नरेंद्र मोदी पर अक्षरश: लागू होता है। वे बचपन से ही स्वभाव से बहादुर, सन्यासी, गरीबों के हमदर्द, ईमानदार और राष्ट्रवादी प्रवृर्ती के थे। तालाब से मगरमच्छ के बच्चे को पकडऩा और मां के समझाने पर वापस तालाब में छोड़ देना। 1962 के युद्ध के दौरान वडनगर स्टेशन पर ट्रेन से जा रहे सैनिकों को चाय पिलाने के लिए तत्पर रहना और गांव से गैर बराबरी को मिटाने के लिए पिला फूल नामक नाटक का रचना कर लोगों को जागृत करने की घटना ने भारत माता के सच्चे सपूत के रूप में मोदी की परवरिश हुई। जवानी में हिमालय के गोद में जाना, पूरे भारत का भ्रमण कर देश विविधताओं और समस्याओं को नजदीक से देखा और समझा। आतंकवादियों के धमकी के बाबजूद कश्मीर के लाल चौक पर तिरंगा फहराना उनके राष्ट्र प्रेम और दृढ़ता को दर्शाता था। गुजरात के मुख्यमंत्री के रूप में विकास के किये गए कार्यों के अनुभव ने देश के प्रधानमंत्री के रूप में नए भारत के शिल्पकार के रुप में नरेंद्र मोदी को प्रतिष्ठापित किया।
आज तीन तलाक का मामला हो या कश्मीर में एक निशान एक संविधान लागू करने के लिए धारा 370 और 35 । के हटाने का मामला हो सभी में प्रधानमंत्री ने दृढ़ राजनीतिक इच्छाशक्ति को दिखाया है।
आज नए भारत के निर्माण के लिए भारत सरकार ने सभी को बिजली , शौचालय दिया। 2022 तक सभी को पक्का मकान देंगे, किसानों की आमदनी दुगुनी करेंगे और 2024 तक सभी घरों को शुद्ध पानी देंगे। अगले पांच साल में भारत को 5 मिलियन डॉलर की अर्थव्यवस्था बनाना है।

इस अवसर पर विधायिका आशा सिन्हा, पूर्व सांसद विजय सिंह यादव, पूर्व विधायक धर्मेन्द्र यादव, जि़ला अध्यक्ष आशुतोष कुमार, सुरेश पासवान, धर्मेंद्र सिंह, दिनेश यादव,कौशल सिंह, विजय भोटी,भाई सनोज यादव, अजित यादव, विनोद कुमार, गुड्डू सिंह, वीरेंद्र कुमार, सोनू, मुन्ना सोनी, रंजीत यादव, रणधीर यादव उपस्थित थे।

Share To:

Post A Comment: