बेतिया, (रिर्पोटर) :पश्चिम चम्पारण जिला अन्तर्गत प्रसिद्ध ऐतिहासिक रमणीक स्थल वाल्मीकिनगर जाने वाले बगहा-वाल्मीकिनगर मुख्य मार्ग पर शनिवार को लगभग आधा घण्टा आतंक मचाता रहा, जिसके कारण वाल्मीकिनगर जाने वालों में अफरा तफरी का माहौल बना रहा। भारतीय स्टेट बैंक परिसर के पास मुख्य सड़क पर भालू खड़ा रहा। इसी बीच हिम्मत दिखाकर समाजसेवी संगीत आनंद सबसे आगे बढ़े और शोर मचा कर भालू को भगाने में सफल रहे। आधा घण्टा प्रतीक्षा उपरान्त संगीत आनंद के हौसले को देख बैंक कर्मी एवं कार्यालयकर्मी भी  विपरीत मार्ग से शोर करते हुए दौड़े। भालू के जंगल में घुस जाने के बाद पर्यटक, विभिन्न कार्यालयों के कर्मचारी, भारतीय स्टेट बैंक से जुड़े ग्राहक अपने अपने कार्य में जुटे। दूर-दूर तक सड़कों पर भीड़ लगी रही। उल्लेखनीय है कि विगत दो महीनों से भालू की चहल कदमी बढ़ गई है। सूत्रों की मानें तो भालू तीन नंबर पहाड़ कॉलोनी, नदी घाटी योजना उच्च विद्यालय, राजकीय मध्य विद्यालय, बैंक परिसर के आसपास, कार्यालय परिसर के पीछे, ई-टाईप कॉलोनी के पीछे जंगल में, चेक नाका के पास विभिन्न इलाकों में ही रह कर अपना गुजारा कर रहा है। ऐसा लगता है  भालू अपने परिजनों से भटक चुका है। सामाजिक संस्था स्वरांजलि सेवा संस्थान ट्रस्ट के निर्देशक ने वन विभाग से निवेदन किया है कि इसे पकड़ कर सुदूर जंगल में छोड़ दिया जाए, जिससे वह अपने समूह के बीच रह सके।


Share To:

Post A Comment: