पटना, (रिर्पोटर) :  जनता दल यूनाइटेड के विधान पार्षद प्रोफेसर रणवीर नंदन ने ब्लीचिंग पाउडर वितरण कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए कहा कि किसी भी रोग से लड़ने के लिए इलाज से अधिक जरूरी बचाव के उपाय हैं। डेंगू से बचाव के लिए महावीर कॉलोनी के निवासियों के बीच ब्लीचिंग का वितरण कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। प्रो. रणबीर नंदन ने दीघा विधानसभा क्षेत्र के महावीर नगर कॉलोनी में जलजमाव पीड़ितों के बीच  वितरण कार्यक्रम के दौरान कहा कि अगर आप बचाव पर अधिक ध्यान देंगे, तो वह इलाज से बेहतर भूमिका निभा सकता है। महावीर कॉलोनी के प्रबुद्ध नागरिकों की हम सराहना करते हैं, जिन्होंने खुद पहल की है। वह इसके लिए बधाई के पात्र हैं। इसके लिए सरकार की ओर से कोई मदद नहीं की गई है। इस प्रकार की पहल दूसरों के लिए प्रेरणास्रोत बन सकती है। हमारे माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी भी कहते हैं कि समाज को स्वस्थ रखने के लिए हर प्रकार के कदम उठाए जा रहे हैं, लेकिन आम लोगों की भी भागीदारी इसमें महत्वपूर्ण है।

प्रोफेसर रणवीर नंदन ने कहा कि आम लोगों की तकलीफ के साथ जनता दल यूनाइटेड की पूरी टीम हमेशा खड़ी रहती है। 28 सितंबर की रात हमें राजेंद्र नगर से काफी फोन आ रहे थे। वहां पर लोगों का कहना था कि गर्दन के ऊपर तक पानी आ गया है। इसके बाद हमने जनता दल यूनाइटेड पटना महानगर की विशेष बैठक बुलाई और उसमें राजेंद्र नगर वासियों को पूरा सहयोग देने का अनुरोध किया। हमारी पार्टी के सदस्यों ने इस दिशा में काफी ज्यादा काम किया। हम लोगों ने लगातार मेहनत कर लोगों को जलजमाव से बाहर निकालने का काम किया। हमारी पूरी टीम हमारे साथ खड़ी रही। प्रोफेसर नंदन ने कहा कि इसके बाद हमने माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी को फोन किया और वहां की स्थिति की जानकारी दी। इस पर माननीय मुख्यमंत्री ने कहा कि हम भी कंकड़बाग में स्थिति का जायजा ले रहे हैं।

प्रो. रणवीर नंदन ने कहा कि जिस सूबे का मुख्यमंत्री लोगों की परवाह करते हुए रेस्क्यू आॅंपरेशन को माॅंनिटर करते हैं। बड़ी-बड़ी आपदाएं आती हैं, तो कुछ भी काम नहीं कर पाता है। लेकिन, हमारे माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी का कहना है कि आपदा के समय में ही धैर्य के साथ लोगों की सहायता करना जरूरी है। माननीय मुख्यमंत्री जी कहते हैं कि जब आपदा आती है तो सरकार के खजाने पर सबसे पहला हक आपदाग्रस्त व्यक्ति का होता है।  इसको देखते हुए भीषण जलजमाव के समय भी सरकार ने लोगों की सहायता के लिए कोई कसर नहीं छोड़ी। आपदा से लोगों को बचाने के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया गया। लेकिन कुछ लोग ऐसे हैं जो मीडिया में बने रहने के लिए कुछ भी बोलते हैं। आरोप लगाने से भी नहीं पीछे हटते। सरकार ने जो काम किया उसका मुकाबला कोई नहीं कर सकता। सरकार को सहयोग आप लोगों के जरिए ही मिलता है। पटना का आकार कड़ाही की तरह है, इस कारण जलजमाव की समस्या उत्पन्न होती है। उन्होंने वार्ड पार्षद को संबोधित करते हुए कहा कि वह अपने इलाके में पानी की निकासी कैसे हो इसका एक रोडमैप तैयार करें। इस रोडमैप को सही प्रकार से लागू कराने के लिए काम करने की जरूरत है।

रणवीर नंदन ने कहा कि केवल आलोचना करने से कुछ भी नहीं हासिल होने वाला है। आप जानते हैं कि भूकंप के सीस्मिक जोन में हमारा शहर है। ऐसे में आपदा आती है तो उसका विश्लेषण होना चाहिए। उससे बचाव के रास्ते तैयार किए जाने चाहिए। आलोचनाओं के जरिए आप अपनी राजनीति को चमका तो सकते हैं, लेकिन आप सरकार के स्तर पर कोई ठोस योजना नहीं दे सकते हैं। माननीय मुख्यमंत्री श्री नीतीश कुमार जी में जितनी संवेदना है, उस प्रकार की संवेदना हमने किसी और नेता ने नहीं देखी है। वह गंदे पानी में भी घूमते हैं और आम लोगों के बीच भी खड़े होकर उनकी समस्या को सुनते हैं। सरकार आम लोगों की हित व सुरक्षा के लिए लगातार काम कर रही है।

इस मौके पर जदयू नेता छोटू सिंह ने कहा कि मुहल्लेवासियों की सेवा ही समाज सेवा है। इस मौके पर छात्र जदयू के प्रदेश अध्यक्ष श्याम पटेल, पटना महानगर जदयू अध्यक्ष अमर कुमार सिन्हा, वार्ड पार्षद जीत कुमार, जदयू नेता रवि सिंह, समाजसेवी धनंजय कुमार वर्मा, बेउर थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार, जदयू नेता मनोज निषाद, अभीनीत सिन्हा, गीता सिन्हा सहित सैकड़ों लोग मौजूद थे।

Share To:

Post A Comment: