पटना, (रिर्पोटर) :   राजद प्रदेश महासचिव भाई अरूण कुमार ने संघ प्रमुख मोहन भागवत के द्वारा आज संघ के वार्षिक सालगिरह पर मॉब लिंचिंग को जिस प्रकार से नाकारा है उससे लगता है कि संघ प्रमुख मॉब लिंचिंग को देश में बढ़ावा देना चाह रहे हैं उन्होंने जिस प्रकार हिंदू राष्ट्र की बात कही है हिंदू कभी क्रूर नहीं होता हिंदू धर्म में हमेशा दूसरे धर्म के प्रति श्रद्धा का भाव रखने को सलाह देती है परंतु मोहन भागवत ने जिस प्रकार मॉब लिंचिंग को बढ़ावा देने की बात की है उसे लगता है कि संघ लोगों को हिंसक बनाने या हिंसा का रास्ता अपनाने को प्रेरित कर रही है जोकि सरासर गलत है और मानव सभ्यता के खिलाफ है उनका यह बयान संवेदनहीनता को दर्शाता है। 



श्री कुमार ने कहा किशन प्रमुख मॉब लिंचिंग को नकार रहे हैं परंतु देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उस दिन पूर्व मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर चिंता प्रकट की थी और कहे थे यह सब समाज के लिए ठीक नहीं है एक और प्रधानमंत्री मोबलीचिंग को स्वीकार कर रहे हैं तो दूसरी हो संघ प्रमुख इसे अस्वीकार कर रहे हैं यह बड़ा ही असमंजस की स्थिति है।

Share To:

Post A Comment: