पटना,  (रिर्पोटर) :    जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव एजाज अहमद ने  कहा कि पटना में केंद्रीय मंत्री  रविशंकर प्रसादए उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी सहित  सभी भाजपा के विधायक और सांसद सिर्फ  सत्ता का मेवा खाने में लगे हुए हैं, और जनता को उसके हाल पर छोड़ कर फरार की मुद्रा में हैं ।  अपने  स्वयं के  बचाव के लिए बिहार के उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने एनडीआरएफ का इस्तेमाल किया, लेकिन जब आमलोगो के बचाव के लिए जन अधिकार पार्टी लोकतांत्रिक के राष्ट्रीय अध्यक्ष पप्पू यादव जब एनडीआरएफ के मोटर वोट का इस्तेमाल करते हैं तो उन्हें इसके इस्तेमाल करने पर पटना जिला प्रशासन द्वारा रोक लगा दी जाती है यह निंदनीय करवाई है । जहां एक ओर पप्पू यादव सेवा कार्यों में लगे हुए हैं वहीं दूसरी ओर भाजपा के नेता गण सत्ता के मेवा में जनता को उसके हाल पर छोड़ दिए हैं , जन अधिकार पार्टी इस बात के लिए संकल्पित है कि पप्पू यादव के नेतृत्व में पटना के लोगों तक किसी भी परिस्थिति में राहत कार्य पहुंचाना है और उन्हें रेस्क्यू करके सुरक्षित स्थान तक ले जाना है ,इसके लिए पप्पू यादव स्वयं जेसीबी और ट्रैक्टर के माध्यम से लोगों तक राहत कार्य कर रहे हैं और उनके लिए रेस्क्यू का कार्य भी सफलतापूर्वक चला रहे हैं । बिना किसी राजनीतिक लाभ - हानि के क्योंकि जनता के दुख दर्द में शामिल होकर उनको इस बात का एहसास कराना है कि वे सिर्फ उनके दुख हर संकट में उनके साथ परिवार की तरह खड़े हैं। और सत्ता पक्ष और विपक्ष  सिर्फ  राजनीतिक बयानबाजी पर निर्भर है ।    एजाज ने  कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के ट्वीट और टेलीफोन को भी भाजपा राजनीतिक लाभ के लिए इस्तेमाल करके राहत का श्रेय नरेंद्र मोदी को दे रहे हैं ,तो दूसरी ओर जदयू के नेता राहत कार्य चलाने का श्रेय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को दे रहे हैं जबकि जमीनी सतह पर  भाजपा जदयू का कुछ दिख नहीं रहा है । हद तो यह है कि  नेता प्रतिपक्ष अपने आदत के मुताबिक जब भी जनता संकट में होती है वह पटना से दूर दिल्ली में रहकर ट्वीट के सहारे ही दुख में शामिल होने का दिखावा करते हैं, और ट्वीट से ही राज्य सरकार के खिलाफ बयानबाजी  कागजी घोड़ा दौड़ाते  हैं । पक्ष और विपक्ष की यही स्थिति राज्य की जनता बराबर देख रही है और समय पर इसका जवाब देगी। 


Share To:

Post A Comment: