भागलपुर , (रिर्पोटर) :भागलपुर में डेंगू के बढ़ते प्रकोप एवं इसकी रोकथाम में असफल निगम की अनियमितता के विरोध में जिला कांग्रेस कमेटी के तत्वावधान में  एक दिवसीय धरना का आयोजन किया गया। धरना कार्यक्रम का नेतृत्व भागलपुर  विधायक अजीत शर्मा ने किया। जबकि धरने की अध्यक्षता जिला कांग्रेस कमेटी के उपाध्यक्ष डॉ अभय आनंद ने किया तथा मंच संचालन अभिषेक चौबे ने किया। धरना के बाद बिहार के राज्यपाल को संबोधित एक ज्ञापन जिला पदाधिकारीए भागलपुर को सौंपा गया। धरना को संबोधित कर विधायक अजीत शर्मा ने कहा कि भागलपुर नगर निगम की अकर्मण्यता और लापरवाही की वजह से संपूर्ण भागलपुर नगर निगम क्षेत्र डेंगू जैसी जानलेवा बीमारी की जद में पूरी तरह आ गया है, जिससे भागलपुर में अब तक 11 लोगों की मौत हो चुकी है। श्री शर्मा ने कहा कि मैंने दो माह पूर्व ही पत्र लिखकर नगर निगम के आयुक्त एवं जिला पदाधिकारी को आगाह किया थाए लेकिन जिला और नगर निगम प्रशासन ने समय रहते कोई ऐतिहासिक कार्रवाई नहीं की जिसका खामियाजा भागलपुर की जनता को भुगतना पड़ रहा है। निगमायुक्त की यह लापरवाही नजरअंदाज करने लायक नहीं है,  राज्य सरकार को इसके विरुद्ध कार्रवाई करनी चाहिए। मैं इस मामले को विधानसभा में पुरजोर ढंग से उठाऊंगा, क्योंकि मेरी प्रतिबद्धता भागलपुर की जनता के प्रति है जिसके लिए मैं सतत प्रयत्नशील रहता हूं। जिला कांग्रेस के उपाध्यक्ष डॉ. अभय ने कहा कि  धरना कार्यक्रम को बाधित करने के लिए नगर आयुक्त ने षड्यंत्र रचा एवं कार्यक्रम को बाधित करने का कुत्सित प्रयास किया। उनका आचरण जनविरोधी, लोकतंत्र विरोधी एवं अराजकपूर्ण है। राज्य सरकार को ऐसे पदाधिकारियों के विरुद्ध सख्त कार्रवाई करनी चाहिए। कांग्रेस पार्टी बिना किसी दबाव के जन समस्याओं को लेकर संघर्ष करती है प्रशासन की ऐसी कार्रवाई अपनी विफलता को छिपाने का प्रयास है। इस धरना में महानगर अध्यक्ष सह पार्षद संजय कुमार सिन्हा, नगर अध्यक्ष सोइन अंसारी, रणवीर शर्मा,कार्तिक मंडल, पार्षद प्रतिनिधि शकील अहमद, मिंटू कुरैशी, अभिमन्यु यादवए शारिक खान, मो. दानिश, वकील यादव, मो. शाहरुख, बंटी कुमार दास, मनोज सिंह, माइकल, बाबर अंसारी, युसूफ खान, बसंती देवी, रामजी मुसहर सहित सैकड़ों कार्यकर्ता उपस्थित थे ।

Share To:

Post A Comment: