पटना, (रिर्पोटर) :   अगले साल 09 अगस्त को महा अभियान के तहत एक दिन में 2.51 करोड़ पौधारोपण की तैयारी की समीक्षा के लिए अपने कार्यालय कक्ष में वन विभाग के अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक में उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने निर्देश दिया कि पंचायत से लेकर जिला स्तर तक पौधारोपण समिति गठित कर उसमें अधिकारियों के साथ जनप्रतिनिधियों को भी शामिल किया जाए। महा अभियान को सफल बनाने के लिए वन व कृषि विभाग, उद्यान्न तथा कृषि विश्वविद्यालयों की नर्सरी में 7 करोड़ पौधे तैयार किए जाएंगे। प्रत्येक पंचायत में 2 हजार पौधे लगाये जायेंगे और इसके लिए पंचायतों से पौधों की किस्म की पहले से जानकारी ली जायेगी। नर्सरियों को नजदीक की पंचायतों से टैग किया जायेगा ताकि मांग के अनुसार उन्हें समय पर पौधा उपलब्ध कराया जा सके। तय किया गया है कि वन विभाग की ओर से 151.77 करोड़, ग्रामीण विकास विभाग की ओर से मनरेगा के तहत 60 लाख, अन्य विभागों की ओर से 40 लाख व सामाजिक संस्थाओं की ओर से 5 लाख पौधारोपण एक दिन में किया जायेगा। सड़क,नहर, रेल लाइन के किनारे के अलावा वनभूमि पर भी 23 लाख से अधिक पौघे लगाये जायेंगे। मालूम हो कि इस साल वन महोत्व के दौरान बिहार में 1.32 करोड़ पौधारोपण किया गया है। इस महा अभियान में जनसहभागिता सुनिश्चित करने के साथ ही इससे सरकार के विभिन्न प्रतिष्ठान, बैंक, स्कूल, काॅलेज व अन्य संस्थाओं को भी जोड़ा जायेगा। राज्य सरकार के अनेक विभागों, जीविका की दीदियों व बिहार में कार्यरत कम्पनियों यथा एयरटेल, बीपीसीएल, एनटीपीस, गेल, टाटा आदि से भी सीएसआर के तहत सहयोग लिया जायेगा।

Share To:

Post A Comment: