डालटेनगंज, (रिर्पोटर) : भाजपा शासन में आदिवासी व दलितों के हक़ में कोई कारगार नीती नहीं बनायी गयी ।  जो भी नीतियां बनी उनको कमजोर करने वाली हैं । उक्त बातें सूबे के पूर्व ग्रामीण विकास मंत्री केएन त्रिपाठी ने रामगढ़ प्रखंड के अपने चुनावी दौरे के दौरान कहीं।

उन्होंने हेमंत सरकार का उदाहरण देते हुए कहा कि पिछले  सरकार में मंत्री रहते हुए उन्होंने जो भी योजनाएं गरीबों, दलितों व आदिवासियों के लिए बनाई थी इस सरकार ने उन सारी योजनाओं को बंद कर दिया और गरीबों को मिलने वाला पैसा किसी और को दे दिया।

सरकार में रहते हुए हमलोगों ने ऐसी योजना बनाई थी कि राज्य के सभी दलितों, पिछड़े लोगों के घर मे साल में 2 साड़ी व 2 धोती दी जाएगी लेकिन भाजपा सरकार ने सत्ता में आते ही इस योजना को बंद कर दिया। मजदूरों को उनके औजार व साईकिल देने की योजना भी इस सरकार ने बंद कर दिया ।  रघुवर सरकार ने तृतीय व चतुर्थवर्गीय नौकरियों में दूसरे राज्य के लोगों की बहाली कर गरीब, पिछडों व दलितों के बच्चों की नौकरियां छीनी और उनके गैरमजरूआ ज़मीन को लैंड बैंक में डाल दिया जिससे वे आने वाले दिनों में अपने ही ज़मीन से बेदखल हो जाएंगे। 

Share To:

Post A Comment: