पटना, (राकेश कुमार) : भारतीय मित्र पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष धनेश्वर महतो ने भाजपा सांसद प्रज्ञा ठाकुर को संसद में दिये बयान की निंदा कर कहा कि भाजपा सांसदा द्वारा गोडसे को देशभक्त कहकर दोहरा चरित्र को उजागर किया। एक तरफ भाजपा के नेता राष्ट्रपिता महात्मा गांधी के आगे नतमस्तक होते और दूसरी ओर उनकी हत्या कर ने वाले को देशभक्त कहा जाता है। आरएसएस विचारधारा के लाग देश का माहौल बिगाडऩा चाहते हैं। प्रदेश कार्यालय में पत्रकारों से वार्तालाप कर श्री महतो ने कहा कि सांसद प्रज्ञा ठाकुर को संसद की सदस्यता समाप्त करने की मांग कर कहा कि उक्त सांसद द्वारा दिया गया बयान यह पहली बार नहीं है। इसके पहले भी उन्होंने विवादित बयान दिया था। उस वक्त प्रधानमंत्री ने मन सेमाफ न करने की बात कही। वहीं दूसरी ओर उन्हें रक्षा कमिटी का सदस्य बना दिया गया।
महाराष्ट्र की चर्चा कर उन्होंने कहा कि संविधान दिवस के दिन सुप्रीम कोर्ट ने संविधान की रक्षा किया। वहीं भाजपा ने लोकतंत्र का गला घोंटने का काम किया। शरद पवार महाराष्ट्र ही नहीं देश के चाणक्य साबित हुए। महाराष्ट्र में सरकार बनाने की उथल-पुथल  की राजनीति ने देश में खलबली पैदा कर दिया। भ्रष्टाचार समाप्त करने की बात करने वाली भाजपा में ही भ्रष्टाचार फैला है। भाजपा का समर्थन करने वाले अजीत पवार पर से 24 घंटा के अन्दर कई केस हटा लिया गया। अब जनता भाजपा का दिग्भ्रमित करने वाली बयानों में फंसने वाली नहीं है।
इस अवसर पर राष्ट्रीय महासचिव इन्द्रजीत कुमार, रामजतन महतो, लव कुमार सिंह, गोपाल कुमार तिवारी, श्रीमती वीणा देवी उपस्थित थे।

Share To:

Post A Comment: