पटना, (रिपोर्टर) :नागरिकता संशोधन कानून 2019 (CAA) और NRC को लेकर आयोजित बिहार के दौरान आज सुबह विकासशील इंसान पार्टी के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष मुकेश सहनी को पुलिस ने उस वक्‍त गिरफ्तार कर लिया, जब वे सुबह-सुबह अपने कार्यकर्ताओं के साथ राजेन्द्र नगर स्टेशन पहुंचे और ट्रेनों का परिचालन बाधित कर दिया। इस दौरान उनके नेताओं और कार्यकर्ताओं ने नागरिकता संशोधन कानून 2019 को काला कानून बता कर केंद्र की मोदी सरकार और प्रदेश की बिहार सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

इस मौके पर मुकेश सहनी ने कहा कि देश को ऐसे कानून को कोई जरूरत नहीं है। यह कानून संविधान विरोधी है और मजबूत विपक्ष के नेता हम इसका विरोध कर रहे हैं और आगे भी सरकार की हर जनविरोधी नीतियों के खिलाफ मजबूती से विरोध करते रहेंगे। उन्‍होंने कहा कि नागरिकता संशोधन कानून 2019 के खिलाफ यह बंद जनता और हमारी आने वाली पीढि़यों के भविष्‍य के लिए है। देश में जिस तरह से NRC और CAA 2019 लागू किया गया, वह सही नहीं है।

मुकेश सहनी ने कहा कि आज देश में रोजगार, गिरती जीडीपी, क्राइम कंट्रोल, किसान का सुसाइड आदि प्रमुख मुद्दे हैं, जिससे पर केंद्र और राज्‍य सरकार कोई मतलब नहीं रह गया है। जिस तरह से देश में बेटियों और महिलाओं पर हमले हो रहे हैं, वो सरकार को क्‍यों नहीं दिखता। क्‍योंकि उनके अधिक से अधिक लोग ही महिलाओं का उत्‍पीड़न करते हैं। उन्‍होंने कहा कि आज देश की अर्थव्‍यवस्‍था ठप्‍प हो रही है, जीडीपी न्‍यूनतम स्‍तर पर है। ऐसे में सरकार लोगों का ध्‍यान भटकाने के लिए काले कानून ला रही है। यह हमें मंजूर नहीं। देश बाबा साहब के संविधान से चलेगा और संविधान विरोधी कानून के खिलाफ मजबूती से लड़ते रहेंगे। क्‍योंकि हमने सरकार उलूल जुलूल कानून बनाने के लिए नहीं चुना है। हम 21 तारीख के बंद को भी पूरी मजबूती के साथ सफल बनायेंगे। 


Share To:

Post A Comment: