पटना, (रिपोर्टर) : भाजपा प्रवक्ता डॉ. निखिल आनंद ने नागरिकता संशोधन कानून का विरोध करने वालों को लोगों को जनविरोधी और राष्ट्रविरोधी करार दिया है। निखिल आनंद ने कहा है कि कुछ भाड़े के लोग सीएबी और एनआरसी पर देश को बदनाम करने के काम में सेवारत किए गए हैं। ऐसे लोग उक्त निहित हित साधने वाले लोगों के पक्ष में प्रोपोगंडा फैलाने में लगे हैं। जब देशहित में नागरिकों से बड़ा दिल दिखाने की अपेक्षा की जाती है, ये लोग जबरन अपना छद्म बौद्धिक वर्चस्ववाद देश पर थोपने में व्यस्त हैं। यही नहीं बिहार भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि  इस देश में कुछ जबरिया मूर्ख लोग हैं जिन्हें जिन्हें संसदीय लोकतांत्रिक व्यवस्था में भरोसा नहीं है। ऐसे लोगों को जानना चाहिए कि एक बार जब देश की संसद ने कोई बिल बहुमत से पास कर दिया तो वह देश का कानून बन गया है जिसका देश सभी नागरिकों को सम्मान करना चाहिए।
श्री  आनंद ने प्रधानमंत्री  नरेंद्र मोदी और गृहमंत्री अमित शाह को सीएबी लागू करने के लिए बधाई देते हुए कहा की जिनके लिए राजनीति का मकसद राष्ट्रहित में निर्णय लेकर ईतिहास की भूलों को सुधारकर नया भविष्य गढऩा है वे किसी की परवाह नहीं करते हैं। वहीं इस बिल का विरोध करने वाले राजनीति में घुसे प्रोफेसनल लोगों से लोगों को बचने की सलाह देते हुए भाजपा प्रवक्ता ने कहा कि राजनीति व्यवसाय नहीं है और न ही व्यवसायिक हितों से ही राजनीति चलती है। व्यवसाय का राजनीतिक घालमेल कर धन कमा सकते है लेकिन इससे राष्ट्र का भला नहीं होता। जिनको नया ईतिहास रचना है वे भूतकाल का हैंगओवर लेकर राजनीति नहीं करते। लोकतांत्रिक संसदीय व्यवस्था का सम्मान करना हर नागरिक का फर्ज है।

Share To:

Post A Comment: